comscore
News

Intex के फोन रिटेल स्टोर से गायब, एक और Indian Smartphone कंपनी का सूरज हो सकता है अस्त

चाइनीज कंपनियों की एंट्री के बाद से भारतीय हैंडसेट मार्केट काफी कॉम्पटेटिव हो गया है, ऐसे में भारतीय कंपनियों का इस कॉम्पटीशन में बना रहना काफी मुश्किल दिखाई दे रहा है। एक समय भारत में लावा , कार्बन, इंटेक्स और माइक्रोमैक्स कंपनियों का दबदबा था। 2015 के मध्य में इन कंपनियों का कंबाइन मार्केट शेयर 40% के करीब था।

intex-logo

Karbonn Mobiles के बाद अब Intex टेक्नोलॉजी के फोन भी रिटेल स्टोर से गायब होना शुरू हो गए हैं। ऐसे में इससे संकेत लगया जा रहा है कि क्या इंटेक्स भी भारतीय हैंडसेट माकेट से निकलने की तैयारी कर रही है। दरअसल चाइनीज कंपनियों की एंट्री के बाद से भारतीय हैंडसेट मार्केट काफी कॉम्पटेटिव हो गया है, ऐसे में भारतीय कंपनियों का इस कॉम्पटीशन में बना रहना काफी मुश्किल दिखाई दे रहा है। ET की रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हुआ है। एक समय माइक्रोमैक्स के बाद इंटेक्स दूसरी बड़ी घरेलू स्मार्टफोन कंपनी थी और उसका मार्केट शेयर 13% था। इंटेक्स ने अपने मैन्युफैक्चरिंग प्लांट को अभी होल्ड में डाल दिया है, वहां अभी प्रॉडक्शन नहीं हो रहा है। ऐसे में संकेत मिल रहे हैं कि कंपनी इंडियन हैंडसेट मार्केट से एग्जिट कर सकती है।
अगर ऐसे होता है को भारतीय हैंडसेट मार्केट में सिर्फ माइक्रोमैक्स और लावा जैसी कंपनियां ही रह जाएंगी। हालांकि इन कंपनियों की हालत भी सही नहीं चल रही है। ऐसे में कहना मुश्किल है कि कितने समय तक ये दोनों कंपनियां भारतीय मार्केट में बनी रहती है।

काउंटप्वॉइंट की स्टडी के मुताबिक मार्च क्वॉर्टर में इंडियन हैंडसेट कंपनियों का मार्केट शेयर सिर्फ 3% था, जो चाइनीज कंपनियों के भारतीय मार्केट में दबदबे की कहानी को बताता है। एक समय भारत में लावा , कार्बन, इंटेक्स और माइक्रोमैक्स कंपनियों का दबदबा था। 2015 के मध्य में इन कंपनियों का कंबाइन मार्केट शेयर 40% के करीब था। हालांकि अब चाइनीज कंपनियों का कंबाइन मार्केट शेयर इंडियन मार्केट में 65% के करीब है।

Intex ने काफी समय से भारतीय मार्केट में कोई डिवाइस नहीं लॉन्च किया है। रिटेल इंडस्ट्री एग्जिक्यूटिव के मुताबिक इंटेक्स के अभी फीचर फोन में सिर्फ दो मॉडल ही हैं। फीचर फोन मार्केट में रिलायंस जियो कंपनी का दबदबा है। रिलायंस जियो की एंट्री के बाद से फीचर फोन बनाने वाली कंपनियों कार्बन, इंटेक्स और लावा को नुकसान उठाना पड़ा है। रिलायंस जियो ने फीचर फोन सेगमेंट में सैमसंग को पछाड़कर पहली पोजिशन हासिल की थी और वह अभी भी इस नंबर वन पोजिशन पर कायम है।

  • Published Date: May 16, 2019 1:00 PM IST