comscore Intel बना रहा इंसान जैसी क्षमताओं वाला चिपसेट | BGR India Hindi
News

Intel बना रहा इंसान जैसी क्षमताओं वाला चिपसेट, कर सकेगा ये काम

चिप निर्माता कंपनी इंटेल (Intel) ने Cornell University के रिसर्चर्स के साथ मिलकर एक ऐसा चिपसेट बनाने की कोशिश कर रही है, जो इंसानों की तरह सूंघ सके। यानी जिस चिपसेट में सूघने की क्षमता हो

To realize the full potential of the new 9th Gen Intel® Core™ pr

Image credit: Intel


चिप निर्माता कंपनी इंटेल (Intel) ने Cornell University के रिसर्चर्स के साथ मिलकर एक ऐसा चिपसेट बनाने की कोशिश कर रही है, जो इंसानों की तरह सूंघ सके। यानी जिस चिपसेट में सूघने की क्षमता हो। ZDNet की रिपोर्ट के मुताबिक नया एल्गोरिदम ऑनलाइन पब्लिश हुआ है, जो उसी बायोलॉजिकल सिगंल पर आधारित है, जिस पर इंसानों की सूंघने की क्षमता। इस मैथमेटिक्ल एग्लोरिदम को इंटेल के न्यूरोमोग्राफिक कंप्यूटिंग ग्रुप द्वारा तैयार किया गया है। जिसे कंपनी की 14 एनएम की Loihi neuromorphic computing chip पर इम्पलीमेंट किया जाएगा। Also Read - Hike ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और मशीन लर्निंग प्रोग्राम के विकास के लिए IIIT-Delhi के साथ की पार्टनरशिप

बता दें कि Loihi neuromorphic computing chip को साल 2017 में अनवील किया गया था और रिपोर्ट्स की मानें तो इसे बनाने में 6 साल का वक्त लग गया। इस चिप का निर्माण कॉम्प्लेक्स एआई और जटिल समस्याओं को सॉलव करने के लिए किया गया। इस चिपसेट को सेल्फ लर्निंग चिपसेट के रूप में बताया गया है, जो इंसानी दिमागी की तरह काम कर सकती है और इसे Intel Labs डिवीजन द्वारा तैयार किया गया है। Also Read - चोरी करने से पहले ही पकड़े जाएंगे चोर, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस हैं ये सिक्योरिटी कैमरे

Intel का चिप 10 तरह की गंध पहचान सकती है

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह चिपसेट फिलहाल 10 प्रकार की गंध को सूंघ सकती है। जिसके लिए रिसर्चर ने 72 केमिकल सेंसर्स की प्रक्रिया विंड टनल के जरिए रिकॉर्ड की है। ये 10 तरह की गंध उसकी के तरह सर्कुलेट की गई हैं और बाद में इसके डेटा को चिप में जोड़ा गया है। Loihi चिपसेट ना सिर्फ इन 10 तरीकों की स्मेल को रिकॉग्नाइज कर सकती है, बल्कि उनके बैंकग्राउंड इंटरफेस को भी पहचान सकती है। Also Read - सरकार जल्द करेगी राष्ट्रीय आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पोर्टल को लॉन्च, AI सेक्टर को मजबूत करने का इरादा

इस मामले में Intel Neuromorphic कंप्यूटिंग ग्रुप के सीनीयर रिसर्च साइंटिस्ट नबिल इमाम ने बताया कि Cornell University में हमारे सहयोगियों ने जानवरों के biological olfactory system का अध्ययन किया और गंध सूंघने पर उनके दिमाग में बनने वाले इलेक्ट्रिकल एक्टिविटी को मापा। इन सर्किट डायग्राम और इलेक्ट्रिकल एक्टिविटी के आधार पर, एक एल्गोरिदम तैयार की गई और उसे सिलिकॉन में कॉन्फिगर किया गया, खासकर हमारी Loihi चिपसेट की टेस्टिंग के लिए।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: March 19, 2020 5:55 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers