comscore JustDial की चूक से 10 करोड़ यूजर्स का पर्सनल डाटा खतरे में | BGR India
News

JustDial की चूक से 10 करोड़ यूजर्स का पर्सनल डाटा खतरे में

एक सिक्योरिटी रिसर्चर ने फेसबुक पर इस बात का खुलासा करते हुए बताया है कि इस ब्रीच में 100 मिलियन (10 करोड़) से ज्यादा यूजर्स के नाम, ई-मेल, मोबाइल नंबर, जेंडर, बर्थ डेट और पता (Address) जैसी कई पर्सनल जानकारी के साथ समझौता हुआ है।

anonymous-hackers-stock-image

मुंबई बेस्ड भारतीय कंपनी JustDial यूजर्स को कई तरह की सर्विस के लिए लोकल सर्च प्रोवाइड कराने में मदद करती है। इस सर्विस का फायदा यूजर्स कॉल या इंटरनेट के जरिए उठा सकते हैं। इसमें आप अपने आसपास की या किसी भी लोकेशन पर किसी सर्विस,शॉप, बिजनेस, हास्पिटल के बारे में जान सकते हैं। खबर है कि बुधवार को कंपनी के डाटाबेस में बहुत बाडा ब्रीच (सेंध) किया गया है।

एक सिक्योरिटी रिसर्चर ने फेसबुक पर इस बात का खुलासा करते हुए बताया है कि इस ब्रीच में 100 मिलियन (10 करोड़) से ज्यादा यूजर्स के नाम, ई-मेल, मोबाइल नंबर, जेंडर, बर्थ डेट और पता (Address) जैसी कई पर्सनल जानकारी के साथ समझौता हुआ है। यह ब्रीच कंपनी की वेबसाइट के पुराने वर्जन के जरिए हुआ है, जिसे कंपनी ने 2015 से मेंटेन नहीं की गई थी।

इतना ही नहीं, रिसर्चर ने आगे बताया है कि यूजर्स के लिए चिंता करने वाली बात यह है कि यदि उन्होंने ऐप और वेबसाइट को इस्तेमाल भी नहीं किया है और केवल कस्टमर केयर पर कॉल किया है तो उनका डाटा भी लीक हुआ है। इस डाटा ब्रीच का खुलासा करने वाले व्यक्ति Rajshekhar Rajaharia का कहना है कि इस डाटा ब्रीच में से 70 प्रतिशत डाटा उन यूजर्स का है, जिन्होंने JustDial के कस्टमर केयर नंबर “88888 88888” पर काल की थी।

Rajaharia का आगे कहना है कि कंपनी के चार API पिछले कुछ सालों से लेकर अभी सुरक्षित नहीं हैं। Rajaharia ने बाताया कि कंपनी ने इस मामले में उनसे बात भी की, लेकिन वें इस समस्या को पूरी तरह से फिक्स नहीं किया है, क्योंकि कुछ डाटा अभी भी एक्सेस किया जा सकता है। हालांकि कंपनी द्वारा कुछ महीनों पहले ही वेबसाइट को अपग्रेड कर दिया गया था, जिसके बाद से यह अब सुरक्षित है।

  • Published Date: April 18, 2019 11:45 AM IST