comscore
News

एलजी ने डुअल इंवर्टर एसी उतारे

एलजी रतीय बाजार में नए डुअल इंवर्टर एयर कंडिशनर सीरिज को पेश किया।

  • Published: March 9, 2017 9:00 AM IST
lg-logo

एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स ने मंगलवार को भारतीय बाजार में नए डुअल इंवर्टर एयर कंडिशनर सीरिज को पेश किया। कंपनी ने बताया कि यह पारंपरिक एसी के मुकाबले बिजली का इस्तेमाल कम करेगी। एलजी इंवर्टर एसी में डुवअल रोटरी कम्प्रेसर का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें दो रोटर्स होते है। इससे कूलिंग की प्रक्रिया तेज होती है, बिजली की बचत होती है, शोर कम होता है और शानदार स्टैबिलिटी प्राप्त होती है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि पारंपरिक रूप से एयर कंडिशनर चलाने का खर्च काफी ज्यादा होता है और यह ग्राहकों के लिये चिंता का कारण होता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए कंपनी ऊर्जा संरक्षण के विचार पर काम कर रही है। एलजी पहली कंपनी है, जो अपने स्प्लिट एसी की सम्पूर्ण श्रृंखला को इंवर्टर एसी में बदलेगी।

एलजी डुअल इंवर्टर एसी को आइएसईईआर रेटिंग्स (इंडियन सीजनल एनर्जी इफिशियंसी रेशो) प्राप्त है, जोकि बीईई (ब्यूरो ऑफ एनर्जी इफिशियंसी) द्वारा प्रदत्त एक नई दक्षता रेटिंग है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ पहल के अंतर्गत एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया ने ग्रेटर नोएडा और पुणे में स्थित अपने उत्पादन संयंत्रों में डुअल इंवर्टर एसी का उत्पादन शुरू कर दिया है।

इसे भी देखें: 4G VoLTE सपोर्ट और एंड्राइड मार्शमैलो के साथ iVoomi iV505 स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, कीमत महज़ Rs. 3,999

एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया के प्रबंध निदेशक किम-कि-वॉन ने बताया, “एलजी में भारतीय ग्राहकों को सबसे अधिक अहमियत दी जाती है। ग्राहकों का ख्याल रखते हुये हम ऐसे उत्पादों की पेशकश करने का प्रयास करते हैं, जिनसे उन्हें खुशी और संतोष दोनों ही मिल सके। डुअल इंवर्टर सिरीज को सर्वाधिक दक्ष एयर कंडिशनर्स उपलब्ध कराने के लिये लक्ष्य के साथ विकसित किया गया है और हमें पूरा भरोसा है कि 2017 एलजी एयर कंडिशनर्स के लिये एक शानदार साल होगा।”

इसे भी देखें: बग ढूंढने पर माइक्रोसॉफ्ट अब देगी 30,000 डॉलर का इनाम

एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया के बिजनेस हेड (आरएसी) विजय बाबू ने बताया, “एयर कंडिशनर्स की खरीदारी के समय ऊर्जा दक्षता ग्राहकों के लिए एक सबसे महत्वपूर्ण पैमाना होता है। एलजी डुअल इंवर्टर सिरीज में नवाचार को तकनीक में सुधारों के साथ संयोजित किया गया है ताकि अधिकतम संभावित कूलिंग परफॉर्मेंस प्रदान किया जा सके।”

इसे भी देखें: नोकिया 6, 5 और नोकिया 3 में मौजूद है VoLTE सपोर्ट, भारत में रिलायंस जियो सिम को करेंगे सपोर्ट

  • Published Date: March 9, 2017 9:00 AM IST