comscore मारुति स्थानीय प्रौद्योगिकी कंपनियों के साथ भागीदारी को तैयार | BGR India
News

मारुति स्थानीय प्रौद्योगिकी कंपनियों के साथ भागीदारी को तैयार

मारुति सुजुकी इंडिया ने भविष्य में वाहन उद्योग में नई प्रौद्योगिकी के महत्व को देखते हुए स्थानीय स्तर पर प्रौद्योगिकी इकाइयों के साथ भागीदारी के विकल्प को खुला रखा है।

  • Updated: February 15, 2022 5:00 PM IST
maruti-suzuki-dzire-new


मारुति सुजुकी इंडिया ने भविष्य में वाहन उद्योग में नई प्रौद्योगिकी के महत्व को देखते हुए स्थानीय स्तर पर प्रौद्योगिकी इकाइयों के साथ भागीदारी के विकल्प को खुला रखा है। ये कंपनियां मारुति की मूल कंपनी सुजुकी के भविष्य के उत्पाद विकास में भी भूमिका निभाएगी। Also Read - 5-Door Jimny, Baleno Cross... Maruti Suzuki भारत में लाने वाली है तीन नई कारें

Also Read - Maruti Suzuki जल्द लाएगी नई MPV, Toyota Innova Hycross जैसे होंगे फीचर्स

मारुति सुजुकी इंडिया के प्रबंध निदेशक तथा मुख्य कार्यपालक अधिकारी केनिची अयूकावा ने यह कहा। कंपनी का मुख्य जोर इलेक्ट्रिक वाहनों तथा वैकल्पिक ईंधन से चलने वाली गाड़ियों पर होगा। कंपनी ने देश में 2020 में इलेक्ट्रिक वाहन पेश करने की तैयारी कर रही है। Also Read - Toyota Glanza CNG Vs Maruti Baleno CNG: ग्लैंजा या बलेनो? जानें दोनों CNG कारों में कौन है बेहतर

उन्होंने पीटीआई भाषा से बातचीत में कहा, ‘‘मुझे लगता है कि भविष्य में इस प्रकार के अवसर हैं।’’ उनसे यह पूछा गया था कि क्या मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) भविष्य के वैसे उत्पाद विकास के लिये स्थानीय स्तर पर नई प्रौद्योगिकी वाली कंपनियों से भागीदारी पर विचार करेगी जो सुजुकी मोटर कारपोरेशन को भी मिले।

अयूकावा ने कहा कि एमएसआई प्रौद्योगिकी के लिये मूल कंपनी सुजुकी पर आश्रित है लेकिन वह अपने खुद के अनुसंधान एवं विकास कौशल में सक्षम है और उसने उत्पाद विकास में बड़ी भूमिका निभानी शुरू की है। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि लोकप्रिय काम्पैक्ट एसयूवी विटारा ब्रेजा के विकास की अगुवाई भारतीय इंजीनियरों ने की।

इस प्रकार की पहल के महत्व को रेखांकित करते हुए अयूकावा ने कहा, ‘‘देश में हमारा बड़ा बाजार है और बाजार की उम्मीदों के अनुरूप उत्पादों के लिये हमें उस तरह की प्रौद्योगिकी के विकास की जरूरत है।’’ इलेक्ट्रिक वाहन के बारे में अयूकावा ने कहा कि हालांकि कंपनी ने 2020 तक भारत में इलेक्ट्रिक वाहन पेश करने का लक्ष्य रखा है, एमएसआई इस संदर्भ में नई प्रौद्योगिकी की तैयारी में तेजी लाने के लिये सरकार से स्पष्ट नीति का इंतजार कर रही है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि एमएसआई एथेनाल और बायो-डीजल जैसे वैकल्पिक ईंधन से चलने वाले वाहनों को भी आगे बढ़ाएगी।

  • Published Date: February 5, 2018 11:00 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:00 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.