comscore Mobile Tower Fraud: मोबाइल टॉवर लगवाने के चक्कर में लुट सकते हैं आप, इन बातों का रखें ध्यान
News

Mobile Tower Fraud: मोबाइल टॉवर लगवाने के चक्कर में लुट सकते हैं आप, इन बातों का हमेशा रखें ध्यान

Mobile Tower Fraud के तहत जालसाज लोगों को उनकी जमीन पर टावर लगाने का फर्जी ऑफर देते हैं। इसके बदले में लोगों को किराए का वादा किया जाता है।

4G-Towers

Some individuals are offering fake "No Objection Certificates" from the Ministry of Telecommunications and Information Technology for the installation of towers.


Mobile Tower Fraud: टेलीकॉम इंडस्ट्री बॉडी DIPA (Digital Infrastructure Providers Association) और COAI (Cellular Operators Association of India) ने मोबाइल टावर फ्रॉड के खिलाफ जनता को चेतावनी नोटिस जारी किया है। Also Read - Messenger चैटबॉट की मदद से चल रहा नया स्कैम, Facebook अकाउंट झटके में होता है हैक

मोबाइल टावर फ्रॉड के तहत जालसाज लोगों को उनकी जमीन पर टावर लगाने का फर्जी ऑफर देते हैं। इसके बदले में लोगों को किराए का वादा किया जाता है। मगर, इस प्रोसेस को पूरा करने के लिए स्कैमर्स सरकारी टैक्स के नाम पर कुछ पैसा जमा करने को कहते हैं। Also Read - नकली एक्सचेंज से जुड़ा यह Crypto Scam है बहुत खतरनाक, भारतीय इंवेस्टर्स के साथ हुई 1000 करोड़ रुपये की ठगी

खुद की प्रामाणिकता बढ़ाने के लिए ये धोखेबाज दूरसंचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के नाम पर बना हुआ नकली No Objection Certificate भी पेश करते हैं। जो लोग इस झांसे में आ जाते हैं, उनका पैसा डूब जाता है और फ्रॉड करने वाले गायब हो जाते हैं। Also Read - Amazon की पूर्व महिला इंजीनियर को कोर्ट ने 10 करोड़ यूजर्स का डेटा चोरी करने का पाया दोषी

Mobile Tower Fraud से कैसे बचें

DIPA और COAI का नोटिस जनता को उन कंपनी, एजेंसी और व्यक्तियों के खिलाफ आगाह करता है जो आपकी जमीन पर मोबाइल टावर लगाने के बहाने धोखाधड़ी करते हैं। इस स्कैम से बचने के लिए इन टेलीकॉम बॉडी ने हेल्पलाइन नंबर और टावर लगाने वाली आधिकारिक कंपनियों के नाम भी बताए हैं।

DIPA काफी वक्त से मोबाइल टावर फ्रॉड के बारे में अखबारों में नोटिस जारी कर रही है। इस टेलीकॉम बॉडी के Director General T R Dua ने कहा कि भारत में मोबाइल टावर सिर्फ Summit Digital Infrastructure, Indus Towers, American Tower Corporation, Tower Vision और Ascend Telecom जैसी कंपनियां लगाती हैं।

COAI ke Director General S P Kochhar ने कहा कि धोखेबाजों द्वारा जनता को धोखा दिया जा रहा है। इसकी वजह से देश में विश्वास की कमी के साथ-साथ एक मजबूत संचार नेटवर्क बनाने के लिए जमीन पर काम कर रहे टीम कर्मियों के प्रति असुरक्षा पैदा हो रही है।

अगर आपको भी कोई शख्स या कंपनी मोबाइल टावर लगवाने के लिए संपर्क करती है तो आप नैशनल कंज्यूमर हेल्पलाइन (NCH) को टोल-फ्री नंबर 1800114000 या 14404 पर कॉल करके मदद ले सकते हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: July 5, 2022 10:32 AM IST



new arrivals in india