comscore दूरसंचार से इतर आय के लिए लाइसेंस शुल्क नहीं: उच्च न्यायालय | BGR India
News

दूरसंचार से इतर आय के लिए लाइसेंस शुल्क नहीं: उच्च न्यायालय

दूरसंचार कंपनियों की उनके लाइसेंस से इतर गतिविधियों से प्राप्त आय को परिचालक की समायोजित सकल आय (एजीआर) की गणना में शामिल नहीं किया जा सकता।

  • Published: May 20, 2017 11:00 PM IST
telecom-industry

त्रिपुरा उच्च न्यायालय ने कहा है कि दूरसंचार कंपनियों की उनके लाइसेंस से इतर गतिविधियों से प्राप्त आय को परिचालक की समायोजित सकल आय (एजीआर) की गणना में शामिल नहीं किया जा सकता। भारती एयरटेल की अनुषंगी भारती हेक्साकॉम की अपील पर अदालत ने कल यह फैसला सुनाया।

न्यायाधीश एस तलापत्रा ने अपने फैसले में कहा, ‘‘सकल आय की परिभाषा में वह आय शामिल नहीं होगी जो कंपनी को लाइसेंस से इतर गतिविधियों से प्राप्त हुई है।’’ अदालत ने यह भी व्यवस्था दी कि दूरसंचार विभाग दूरसंचार परिचालकों की आय के संदर्भ में एजीआर की परिभाषा में बदलाव लाये।

इसे भी देखें: शाओमी Mi 6 का teardown वीडियो देखें इस स्मार्टफोन में है स्प्लैश प्रूफ क्षमता

भारती हेक्साकॉम ने दूरसंचार परिचालकों के लिये एजीआर की गणना के मुद्दे पर 2013 में सरकार के खिलाफ अपील दायर की थी। फिलहाल दूरसंचार कंपनियां अपने एजीआर का करीब 8 प्रतिशत लाइसेंस शुल्क के रूप में देती हैं।

इसे भी देखें: लीक हुआ सैमसंग Galaxy C10 का इमेज, डुअल रियर कैमरा सेटअप में आया नजर

इसे भी देखें: नोटबंदी के बाद भी 500 रुपए के पुराने नोट 7,00,000 से ज्यादा में हो रहे सेल

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: May 20, 2017 11:00 PM IST