comscore ओला को घाटा 2016-17 में बढ़कर 4,898 करोड़ रुपये हुआ | BGR India
News

ओला को घाटा 2016-17 में बढ़कर 4,898 करोड़ रुपये हुआ

  • Updated: February 15, 2022 5:11 PM IST
38e975f59bcff1d20562da0dad191193__1

कैब सेवा देने वाली कंपनी ओला की आय बढ़ने के बावजूद उसकी घाटे में तेज वृद्धि हुई है। ओला को वित्त वर्ष 2016-17 में 4,897.8 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। 2015-16 में उसका घाटा 3,147.9 करोड़ रुपये था।  वहीं , पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले उसकी कुल आय में 70 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। नियामकीय दस्तावेजों से इसकी जानकारी हुई। Also Read - Ola ऐप की दो कमियां हुई दूर, अब बुकिंग नहीं होगी कैंसिल!

Also Read - New year 2020 party: नए साल में लेट नाइट पार्टी का है प्लान तो OLA, Uber बुक करते समय इन बातों का रखें ध्यान

रजिस्टर ऑफ कंपनीज में पेश दस्तावेजों के अनुसार , ओला का परिचालन करने वाली एएनआई टेक्नोलॉजी की एकीकृत शुद्ध आय में 70 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई। आय 2015-16 में 810.7 करोड़ रुपये से बढ़कर 2016-17 में 1,380.7 करोड़ रुपये हो गयी। ओला ने भेजे गए ई – मेल का कोई जबाव नहीं दिया है। शोध फर्म टोफलर की संस्थापक आंचल अग्रवाल ने कहा कि 1000 करोड़ रुपये के एकबारगी नुकसान से नतीजे खराब रहे। Also Read - कर्नाटक सरकार ने छह महीने के लिए सस्पेंड किया ओला का लाइसेंस

ई – कॉमर्स कंपनियों की तर्ज पर उसके विज्ञापन खर्च में 35 प्रतिशत की गिरावट हुई है।बाजार अनुसंधान कंपनी टोफ्लर को मिले दस्तावेज के मुताबिक , ओला को वित्त वर्ष 2016-17 में वित्तीय प्रतिभूतियों की कीमतों की वजह से 1,095.3 करोड़ रुपये की एकबारगी हानि हुई। कंपनी का कर्मचारी खर्च करीब 24 प्रतिशत बढ़कर 572.1 करोड़ रुपये रहा जबकि ब्याज खर्च बढ़कर 28.7 करोड़ रुपये हो गया।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 14, 2018 6:18 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:11 PM IST



new arrivals in india