comscore फूड डिलिवरी ऐप से पिज्जा मंगाना पड़ा महंगा, गवाएं 95 हजार रुपये | BGR India Hindi
News

फूड डिलीवरी ऐप से पिज्जा मंगाना पड़ा महंगा, 95 हजार रुपये का लगा चूना

कस्टमर केयर अधिकारी के द्वारा भेजे गए एक लिंक पर क्लिक करने के कुछ देर बाद ही उनके अकाउंट से 95,000 रुपए निकल गए थे। माना जा रहा है कि हैकर्स ने लिंक के जरिए उनकी बैंक अकाउंट डिटेल्स को एक्सेस कर लिया और इस जालसाजी को अंजाम दिया है।

scam-stock-image

Online Scam: कुछ दिनों पहले एक खबर सामने आई थी, जहां लखनऊ में रहने वाले एक व्यक्ति को ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार होना पड़ा था। अब एक नई घटना सामने आई है, जहां बेंगलुरु के एक इंजीनियर को पिज्जा मंगवाना भारी पड़ा है। खबर है कि 1 दिसंबर को एक व्यक्ति ने ऑनलाइन फूड डिलीवरी ऐप के जरिए पिज्जा ऑर्डर किया था, जिसमें हैकर्स (Online scam) ने उसके 95,000 रुपये ठग लिए हैं। Also Read - Swiggy का भारत में क्लाउड किचन में 175 करोड़ रुपये का निवेश

क्या है यह ठगी का पूरा मामला

दरअसल, बेंगलुरु के कोरामंगला क्षेत्र में रहने वाले एक टेक इंजीनियर N.V. Sheikh ने 1 दिसंबर को एक फूड डिलीवरी ऐप के जरिए पिज्जा ऑर्डर किया था। Sheikh ने पुलिस को बयान दिया है कि ऑर्डर करने के एक घंटे बाद भी पिज्जा डिलीवर नहीं हुआ था, जिसके चलते उन्होंने फूड मार्ट के कस्टमर केयर सर्विस को कॉल किया था। कस्टमर केयर अधिकारी ने उन्हें बताया कि रेस्टोरेंट फिलहाल ऑर्डर नहीं ले रहा है, इसलिए कंपनी उन्हें पैसे रिफंड करेगी। Also Read - रिफंड मांगना पड़ा महंगा, अपनी इस बेवकूफी से गवाएं 4 लाख रुपये

Also Read - 'Swiggy Go' हेल्पलाइन से महिला को लगी 95 हजार रुपये की चपत, जानें पूरा मामला

यहां हुई चूक

पुलिस को मिले बयान के मुताबिक, कस्टमर केयर अधिकारी ने उन्हें एक मैसज भेजा, जिसमें एक लिंक था। अधिकारी ने कहा कि रिफंड पाने के लिए उन्हें उस लिंक पर क्लिक करना होगा, जिससे उनकी रिफंड रिक्वेस्ट आगे प्रोसेस हो जाएगी। उन्होंने बताया कि लिंक पर क्लिक करने के कुछ देर बाद ही उनके अकाउंट से 95,000 रुपए निकल गए थे। माना जा रहा है कि हैकर्स ने लिंक के जरिए उनकी बैंक अकाउंट डिटेल्स को एक्सेस कर लिया और इस जालसाजी को अंजाम दिया।

पुलिस कर रही है जांच

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच चल रही हैं। फूड डिलीवरी कंपनी के एक प्रवक्ता ने इस मामले में बताया है कि उनके पास कस्टमर्स के लिए कॉलिंग सर्विस सिस्टम है ही नहीं, बल्कि उनकी ऐप में कस्टमर्स सिर्फ चैट और ई-मेल के जरिए बात करते हैं। पीड़ित का कहना है कि वह अपनी मां के कैंसर के इलाज के लिए पैसे जमा कर रहा था। ऐसे में यह बेहद दुखद घटना है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: December 6, 2019 3:04 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers