comscore Oppo भारत में जल्द दूसरा R&D सेंटर शुरू करेगा, कंपनी ने दी जानकारी | BGR India Hindi
News

Oppo भारत में जल्द दूसरा R&D सेंटर शुरू करेगा, कंपनी ने दी जानकारी

चाइनीज स्मार्टफोन मेकर Oppo भारत में अपना दूसरा शोध एवं विकास (R&D) केंद्र खोलने की तैयारी में है। यह जानकारी देते हुए ओप्पो के एक अधिकारी ने बताया कि कंपनी भारत में अगले तीन वर्षों में विश्व स्तर पर अनुसंधान और विकास में सात अरब डॉलर का निवेश करने की योजना बना रहा है। वर्तमान में कंपनी का एक R&D सेंटर हैदराबाद में स्थित है और दूसरा बेंगलुरू में खुल सकता है।

oppo k3 review ports

चाइनीज स्मार्टफोन मेकर Oppo भारत में अपना दूसरा शोध एवं विकास (R&D) केंद्र खोलने की तैयारी में है। यह जानकारी देते हुए ओप्पो के एक अधिकारी ने बताया कि कंपनी भारत में अगले तीन वर्षों में विश्व स्तर पर अनुसंधान और विकास में सात अरब डॉलर का निवेश करने की योजना बना रहा है। वर्तमान में कंपनी का एक R&D सेंटर हैदराबाद में स्थित है और दूसरा बेंगलुरू में खुल सकता है। Oppo के उपाध्यक्ष और ग्लोबल सेल्स के प्रेसीडेंट एलिन वू  का कहना है कि भारत Oppo के लिए महत्वपूर्ण है। हम भारत में दूसरा R&D सेंटर खोलने की योजना बना रहे हैं।

Oppo के इवेंट INNO Day 2019 के दौरान आइएएनएस से बात करते हुए एलिन वू ने कहा कि राजस्व की बात करें तो हम भारत में अच्छा कर रहे हैं। हमने भारत में 60 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि देखी है और वर्ष के अंत तक यह आंकड़ा बढ़ जाएगा। मैं प्रदर्शन से खुश हूं। Oppo के सीईओ व संस्थापक टोनी चेन ने कहा कि कंपनी 5G/6G, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI), आग्मेंटेड रियल्टी (AR), बिग डेटा और अन्य दूसरी प्रौद्योगिकियों के अतिरिक्त हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर में कोर टेक्नोलॉजी को विकसित करने के लिए शोध व अनुसंधान पर सात अरब डॉलर की राशि निवेश करेगी।

टोनी चेन ने कहा, “5G और AI यूजर्स बढने से इंटेलीजेंट कनेक्टिविटी की पहुंच बढ़ रही है। हमारा मानना है कि कनेक्शन की अवधारणा सिर्फ नींव है, जबकि चीजों का इंटीग्रेशन व कनवर्जेस भविष्य होगा।” इंटेलिजेंट कनेक्टिविटी के काल के लिए इनसाइट व पहल का खुलासा करते हुए ओप्पो ने कई तरह के स्मार्ट उपकरणों, जिसमें स्मार्ट वॉच, स्मार्ट हेडफोन, 5 सीपीई व एआर ग्लासेज को प्रदर्शित किया है।

टोनी चेन ने कहा, “इंटेलिजेंट कनेक्टिविटी की अवधारणा में चार मुख्य भागों से मिलकर बनी है। इसमें कनवर्जेस ऑफ टेक्नोलॉजी, कनवर्जेस ऑफ कल्चर व कनवर्जेस ऑफ टेक्नोलॉजी, कला व मानविकी शामिल हैं। वू ने कहा कि भारत जैसा देश कंपनी के लिए हमेशा महत्वपूर्ण रहा है।

उन्होंने कहा, “ढेर सारे काम अभी करने हैं। हम भारत पर बराबर नजर रखे हुए हैं, क्योंकि हम वहां अपनी सेवाएं बढ़ा रहे हैं।” मार्केट रिसर्च फर्म, आईडीसी के अनुसार, भारत के स्मार्टफोन बाजार में तीसरी तिमाही में ओप्पो की हिस्सेदारी 11.8 प्रतिशत रही है। कंपनी ने कहा कि वह 2020 के पहली तिमाही में स्मार्टवॉच, स्मार्ट वायरलेस हेडफोन व 5 सीपीई (कस्टमर-प्रोवाइडेड इक्यूपमेंट) लॉन्च करेगी।

  • Published Date: December 11, 2019 2:19 PM IST