comscore
News

PUBG खेलना आपको दिखा सकता है जेल का रास्ता, जानें क्या है पूरा मामला

गुजरात चाइल्ड बॉडी की चेयरपर्सन Jagruti Pandya ने नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट के द्वारा इस गेम पर बैन लगाने की मांग की बात को कंफर्म किया है।

PUBG-Mobile-banned

हाल ही में हमने आपको PUBG Mobile के सूरत में बैन को लेकर बताया था। अब एक नई रिपोर्ट के मुताबिक, PUBG खेलना आपको जेल के दर्शन करा सकते सकता है। बच्चों के माता-पिता और कुछ अथॉरिटी के अनुरोध पर हाल ही में PUBG को गुजरात के सूरत शहर में बैन करने की कवायत शुरू हुई थी कि अब PUBG Corp. के सर एक और मुसीबत आ गई है।

हाल के कुछ दिनों में PUBG कई बुरी खबरों के लिए चर्चा में रहा है। जहां एक ओर यह कई बच्चों की मानसिकता पर काफी बुरा असर डाल रहा है, वहीं दूसरी ओर कई बच्चे इस गेम के चक्कर में खुदखुशी भी कर चुके हैं। भारत में भी इसका असर बढ़ता जा रहा है और सरकार इसे स्कूल से दूर रखने के लिए काफी समय से लगी हुई है। यही कारण है कि राजकोट पुलिस कमिश्नर Manoj Agrawal ने PUBG पर अस्थायी बैन का आदेश दिया है।

गुजरात चाइल्ड बॉडी की चेयरपर्सन Jagruti Pandya ने नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट के द्वारा इस गेम पर बैन लगाने की मांग की बात को कंफर्म किया है। इसके लिए गुजरात सरकार से भी गुहार लगाई गई है कि इस गेम के स्कूलों में खेलने पर बैन लगाया जाए।

Manoj Kumar द्वारा जारी की गई स्टेटमेंट (Via DNA) में बताया गया है कि गेम को 9 मार्च से लेकर 30 अप्रैल तक बैन किया गया है और जो बच्चा इस गेम को खेलता नजर आएगा उसके ऊपर केंद्र सरकार एक्ट की सेक्शन 188 के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी।

  • Published Date: March 12, 2019 3:59 PM IST