comscore PM CARES पर पैसे दान करने से पहले रहे सावधान | BGR India Hindi
News

PM CARES पर पैसे दान करने से पहले रहे सावधान, दिल्ली पुलिस ने दिया है खास संदेश

अगर आप कोरोनावायरस से लड़ने के लिए PM CARES में दान करना चाहते हैं, तो आपको सावधान होने की जरूरत है। हाल में ही कोरोनावायरस महामारी से लड़ने के लिए PM Citizen Assistance and Relief in Emergency Situations का ऐलान किया गया है।

Increased transfer limit

UPI 2.0 also brings increased transfer limit. Until now, UPI allowed users to transfer up to Rs 1 lakh daily, but revamped platform will allow to transfer up to Rs 2 lakh per day.


अगर आप कोरोनावायरस से लड़ने के लिए PM CARES में दान करना चाहते हैं, तो आपको सावधान होने की जरूरत है। हाल में ही कोरोनावायरस महामारी से लड़ने के लिए PM Citizen Assistance and Relief in Emergency Situations का ऐलान किया गया है। इसमें अपनी इच्छा के मुताबिक लोग दान कर सकते हैं। Also Read - PM-CARES Fund : कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में करें मदद, घर बैठे ऐसे करें डोनेट

लेकिन इस महामारी में भी कुछ लोग ठगी करने में कोई कमी नहीं छोड़ते। इसके लिेए उन्होंने कई फर्जी यूपीआई आईडी तैयार की है। दरअसल प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद लोग ने बड़ी संख्या में पीएम केयर के माध्यम से सहयोग राशि भेजी, जिसका फायदा उठाने के लिए ठगों ने कई फर्जी यूपीआई आईडी बनाई। Also Read - Coronavirus challenge: टिकटॉक बनाने वाले लड़के को हुआ कोरोनावायरस! चाटी थी पब्लिक टॉयलेट सीट

दिल्ली पुलिस ने सही यूपीआई आईडी अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर की है, जिसमें आप इस फंड में अपना सहयोग दे सकते हैं। दिल्ली पुलिस ने बताया कि pmcares@sbi ही सही यूपीआई आईडी है, किसी अन्य आईडी पर इस संदर्भ में पैसे ट्रांसफर ना करें। दिल्ली पुलिस ने बताया कि जिन भी लोगों ने पब्लिक को गुमराह करने के लिए फर्जी आईडी बनाई हैं, उनके खिलाफ पुलिस शख्त कानूनी कार्रवाई करेगी। Also Read - Corona Kavach एप के जरिए मिलेगी कोरोनावायरस की जानकारी, जानिए कैसे करेगा काम

PM Cares पर संभल कर भेजे राशि

दरअसल, किसी ने प्रधानमंत्री द्वारा आईडी की घोषणा के बाद pmcare@sbi नाम से आईडी बनाई है, जो बिलकुल pmcares@sbi जैसी है। दोनों ही आईडी में सिर्फ एक S का अंतर है। बता दें कि पीएम केयर में अनुदान के लिए सही यूपीआई आईडी pmcares@sbi है। इस मामले की जानकारी एक नागरिक ने एसबीआई और दिल्ली पुलिस को ट्विटर पर दी। जिसके बाद बैंक ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि ये एक फर्जी आईडी है।

एसबीआई ने लिखा, ‘इस फ्रॉड यूपीआई आईडी की जानकारी देने के लिए आपका सुक्रिय। हमने अपनी यूपीआई टीम को इसकी जानकारी दे दी है और वह इस आईडी को ब्लॉक कर रहे हैं।’ जिसके कुछ देर बाद एसबीआई ने इस आईडी को ब्लॉक कर दिया। हालांकि कुछ देर बाद ही एक और आईडी ऐसी ही सामने आई, जिसका नाम pmcaree@sbi था।

बता दें कि पीएम केयर फंड के अतिरिक्त कई राज्य सरकारें भी लोगों से सहयोग की मांग कर रही हैं। ऐसे में हो सकता है राज्य सरकार के फंड अकाउंट के नाम के आसपास की स्पेलिंग में ही दूसरे कई अकाउंट मौजूद हो। इसलिए कोई भी ट्रांसफर करने से पहले संबंधित राज्य के मुख्यमंत्री का ट्विटर हैंडल और आधितारिक वेबसाइट जरूर विजिट करें।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: March 30, 2020 3:53 PM IST