comscore
News

PUBG प्लेयर्स के लिए चेतावनी, कंपनी ने किए 1 करोड़ 30 लाख से ज्यादा चीटर्स बैन

इस साल जनवरी में सबसे ज्यादा चीटर्स बैन किए गए थे, जब Bluehole ने लगभग 10 लाख प्लेयर्स को चीटिंग के शक में बैन किया था।

PUBG Generic 2

Image Credit: PUBG Corp.


जब PUBG पिछले साल आया था तो शुरुआत में इसको काफी फीका रिस्पॉन्स मिला था अौर अब आज के समय में यह सबसे पॉप्युलर गेम्स में से एक है। गेम की पॉप्युलेरिटी कम होने का नाम नहीं ले रही है और एेसा लगता है कि समय के साथ यह और बढ़ती जाएगी। लेकिन, हर गेम के पॉप्युलर होने के साथ ही उसमें चीटिंग करने वाले प्लेयर्स की संख्या भी बढ़ती जाती है। कुछ एेसा ही काफी समय से PUBG के साथ भी हो रहा था। प्लेयर्स आसान तरीकों से गेम को जीतना चाहते हैं और यहीं वजह है कि वह आसान तरीकों को अपनाने की ओर चल देते हैं।

PUBG में लोग चीटिंग सॉफ्टवेयर की मदद से वॉल के आर-पार देखना, एेम बॉट का यूज कर आसानी से निशाना लगाना, स्पीड हैक की वजह से तेजी से भागना और हेल्थ फिक्स जैसे काम कर गेम को आसानी से जीत जाते हैं। इतना ही नहीं इसमें कई चीटिंग टूल एेसे भी होते हैं, जिनकी मदद से प्लेयर्स को गोली लगने पर भी कोई नुकसान नहीं होता है और वो आराम से मैप में लूट की लोकेशन को टैग भी कर सकते हैं।

PUBG Corp. के डेवलपर्स इसको फिक्स करने के कई तरीके ढूंढते रहते हैं, लेकिन कहीं ना कहीं ये फिक्स कम पड़ जाते हैं। अब एक Reddit यूजर ने डेवलपर्स द्वारा चीटिंग करने वालो को बैन करने की संख्या का अनुमान लगाया है। कंपनी ने PUBG के लॉन्च के बाद से अब तक लगभग 13 मिलियन यानी 1 करोड़ 30 लाख चीटर्स को बैन किया है।

इस साल जनवरी में सबसे ज्यादा चीटर्स बैन किए गए थे, जब Bluehole ने लगभग 10 लाख प्लेयर्स को चीटिंग के शक में बैन किया था। यह बैन कंपनी ने गेम्स के रिप्ले और दूसरे प्लेयर्स की शिकायत के बेस पर किए हैं। इसके अलावा कंपनी ने चीटिंग करने वालो को पकड़ने के लिए कुछ थर्ड-पार्टी सॉफ्टवेयर्स की मदद भी ली है।

  • Published Date: October 4, 2018 8:12 PM IST
  • Updated Date: October 4, 2018 8:18 PM IST