comscore Realme के जोनल डिस्ट्रीब्यूटर के खिलाफ केस दर्ज, स्टॉक की सप्लाई रोकने का आरोप - Realme zonal distributer in maharashtra stopped supply FIR registered and All india retailer association wrote letter to madhav sheth
News

Realme के जोनल डिस्ट्रीब्यूटर के खिलाफ केस दर्ज, स्टॉक की सप्लाई रोकने का आरोप

Realme Mobile के जोनल डिस्ट्रीब्यूटर पर फ्रॉड का मुकदमा दर्ज हुआ है। महाराष्ट्र के एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स ने एडवांस पेमेंट लेकर सप्लाई नहीं देने की वजह से यह मुकदमा दायर किया है। जानें पूरा मामला...

Realme-GT-Neo-3T-5


Realme Mobiles के एक जोनल डिस्ट्रीब्यूटर पर मुकदमा दायर किया गया है। डिस्ट्रीब्यूटर पर यह मुकदमा महाराष्ट्र के नासिक के एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स ने मिलकर की है। एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स का कहना है कि रियलमी के जोनल डिस्ट्रीब्यूटर्स ने फोन की सप्लाई रोकी हुई है, जिसके लिए एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स और मोबाइल रिटेलर्स ने 3.84 करोड़ रुपये की एडवांस पेमेंट की है। पेमेंट करने के बाद भी जोनल डिस्ट्रीब्यूटर्स ने मोबाइल फोन की सप्लाई आगे नहीं बढ़ाई है। Also Read - Realme 10 Pro और Realme 10 Pro+ फोन 108MP कैमरा के साथ लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स

ये है पूरा मामला

रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र के 22 एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स ने Realme के जोनल डिस्ट्रीब्यूटर ईगल इलेक्ट्रॉनिक्स इडिया प्राइवेट लिमिटेड (EEPL) पर औरंगाबाद में यह मुकदमा दायर किया है। जोनल डिस्ट्रीब्यूटर EEPL और इसके डायरेक्टर्स अनिल वासुदेव खेमानी, सीता वासुदेव खेमानी और वासुदेव राधाकृष्णन खेमानी पर 60-70 करोड़ रुपये के फ्रॉड का मुकदमा दायर किया गया है। रिटेलर एसोसिएशन ने बताया कि जोनल डिस्ट्रीब्यूटर ने अन्य डिस्ट्रीब्यूटर्स से 60-70 करोड़ रुपये लिए हैं। Also Read - Realme 10 Pro+ फोन में मिलेगी 5000mAh की बैटरी, लॉन्च से पहले कंपनी ने किया कंफर्म

Realme ने EEPL को कंपनी ने उत्तरी और दक्षिण महाराष्ट्र, मराठवाड़ा और कोंकण क्षेत्र के जोनल डिस्ट्रीब्यूटर के तौर पर 2019 में अप्वाइंट किया था। एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स का आरोप है कि कंपनी सामान डिलीवर करने से पहले एडवांस पेमेंट लेते थे, लेकिन डिलीवरी में 3 से 4 दिन का समय लगता था, क्योंकि कंपनी के पुणे स्थित वेयरहाउस में स्टॉक की कमी रहती है। Also Read - Realme 10 5G की कीमत और खास स्पेसिफिकेशन लीक, 17 नवंबर को होगा लॉन्च

दायर मुकदमे के मुताबिक, जुलाई के आखिर और अगस्त में कंपनी ने प्रोडक्ट का स्टॉक नहीं डिलीवर किया और एक महीने से रिटेलर्स और एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स के सामने बहाने बना रही है।

बीते 7 सितंबर को एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स को पता चला कि रियलमी ने फ्रॉड की वजह से EEPL का कॉन्ट्रेक्ट खत्म कर दिया। एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स का कहना है कि वो अब इसमें फंस चुके हैं क्योंकि उनकी रकम एडवांस पेमेंट की वजह से अटकी हुई है। यही नहीं, रिटेलर्स ने क्रेडिट नोट के सेटलमेंट न होने की वजह से पेमेंट करना बंद कर दिया है।

Realme India ने नहीं लिया कोई ऐक्शन

रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र के 600 से जयादा रिटेलर्स एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स से करीब 7 करोड़ रुपये के क्रेडिट नोट के क्लियरेंस की डिमांड कर रहे हैं। एरिया डिस्ट्रीब्यूटर्स ने दावा किया है कि EEPL ने उनके पैसे बिना स्टॉक डिलीवर किए रखे हुए हैं। इस मामले पर ऑल इंडिया रिटेलर एसोसिएशन ने Realme CEO माधव सेठ को पिछले सप्ताह पत्र लिखकर बताया कि लोकल रियलमी की टीम को इस मामले की जानकारी है, लेकिन कंपनी की तरफ से कोई ऐक्शन नहीं लिया गया है। रियलमी की तरफ से फिलहाल इस मामले में कोई स्टेटमेंट जारी नहीं किया गया है।

  • Published Date: October 7, 2022 3:16 PM IST
  • Updated Date: October 7, 2022 3:21 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.