comscore रिलायंस कम्युनिकेशन बंद करे फ्री बेसिक सेवा: ट्राई | BGR India
News

रिलायंस कम्युनिकेशन बंद करे फ्री बेसिक सेवा: ट्राई

नेट न्यूट्रालिटी पर चल रही बहस के बाद आखिरकार टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी

reliance-communications-logo


नेट न्यूट्रालिटी पर चल रही बहस के बाद आखिरकार टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा रिलायंस कम्युनिकेशन के फ्री बेसिक आॅफ फेसबुक सर्विस को कुछ समय के लिए बंद करने के लिए कहा गया है। Also Read - Ericsson केस: चार हफ्तों में 453 करोड़ नहीं दिए तो अनिल अंबानी जाएंगे जेल!

इस बारे में टाइम्स आॅफ इंडिया को ट्राई के एक अधिकारी ने बताया कि हमने रिलायंस कम्यूनिकेशन को ​फ्री बेसिक आॅफ फेसबुक सर्विस बंद करने को कहा है और इसके साथ ही रिपोर्ट देने को कहा है जिसमें कंपनी बताए कि सर्विस को फिलहाल पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। Also Read - क्या है नेट न्यूट्रैलिटी? किन देशों में बना है इसे लेकर कानून

रिलायंस कम्युनिकेशन फेसबुक के साथ अपने मोबाइल सब्सक्राइबर्स को एक एप्लिकेशन के जरिए फ्री बेसिक इंटरनेट सर्विस दे रही है। इस सर्विस को कोई भी यूजर्स अपने एंडरॉयड स्मार्टफोन पर यूज कर सकता है। यहां उसे लिमिटेड सर्विस मिलेंगी। Also Read - क्या है #NetNeutrality? सिर्फ 3 उदाहरण से आम भाषा में समझिए पूरा फंडा

यूट्यूब पर सक्रिय हैं 13 वर्ष से कम उम्र के 76 फीसदी बच्चे: एसोचैम

रिलायंस की फ्री बेसिक सर्विस पहले इंटरनेट डॉट ओआरजी नाम से दी जा रही थी जिसे कंपनी ने पिछले साल अक्टूबर में लॉन्च किया था। परंतु इंटरनेट डॉट ओआरजी को नेट न्यूट्रालिटी के खिलाफ कहा गया था। इस कारण कंपनी ने इंटरनेट डॉट ओआरजी का नाम बदलकर ​फ्री बेसिक कर दिया था।

फ्री बेसिक सर्विस के बारे में ट्राई का कहना है कि अभी यह जांच का विषय है कि रिलायंस कम्यूनिकेशन की फ्री बेसिक सर्विस नेट न्यूट्रालिटी का पार्ट है या नहीं। इतना ही नहीं ट्राई ने यह भी कहा कि अभी यह बात भी बहुत बड़ा प्रश्न है कि सभी कंपनियों को ​अपने कंटेंट को अलग-अलग प्राइस पर देने की मंजूरी देनी चाहिए या नहीं।

दक्षिण कोरिया में फेसबुक सर्वाधिक लोकप्रिय

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले से ही फेसबुक ने इंटरनेट डॉट ओआरजी के लिए समर्थन जुटाने का प्रयास कर दिया है और यूजर्स को मैसेज भेजना शुरू कर दिया है। कंपनी ने फ्री बेसिक सेवा के समर्थन की बात कही है।

Facebook-support

फेसबुक ने सभी यूजर्स से कहा है कि वो फ्री बेसिक इंटरनेट का समर्थन करे और ट्राई को अपने सुझाव भेजें। इसके लिए मैसेज में एक नंबर दिया गया है ​जिस पर मिस कॉल देकर समर्थन किया ​जा सकता है।

दरअसल फ्री बेसिक में बिना इंटरनेट के फेसबुक का एक्सेस कर सकते हैं। फ्री बेसिक में फेसबुक के 100 पार्टनर हैं और इसमें फेसबुक पार्टनर साइट भी फ्री में एक्सेस करने का मौका मिलेगा। फेसबुक की इस सेवा को नेट न्यूट्रालिटी के खिलाफ है। फ्री बेसिक, रिलायंस कम्युनिकेशंस के ग्राहकों के लिए है और पहले फ्री बेसिक का नाम इंटरनेट डॉट ओआरजी था।

जानें फेसबुक की 5 समस्याएं और उनका निदान

जहां तक नेट न्यूट्रालिटी की बात है तो इसे इंटरनेट का स्वतंत्र उपयोग से देखा जा रहा है। अर्थात अगर आपके पास इंटरनेट प्लान है, तो आप हर तरह के वेबसाइट पर हर तरह के कंटेंट को देख सकते हैं और वह भी एक जैसी स्पीड के साथ एक्सेस कर सकें। किसी भी वेबसाइट या कंटेंट के लिए इंटरनेट की गति कम या ज्यादा नहीं होगी।

  • Published Date: December 23, 2015 2:45 PM IST
  • Updated Date: December 23, 2015 2:50 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.