comscore Jio 5G सर्विस 15 अगस्त से होगी शुरू! आकाश अंबानी ने दिया हिंट
News

Jio 5G सर्विस 15 अगस्त से होगी शुरू! आकाश अंबानी ने दिया हिंट

5G Spectrum नीलामी के बाद देश में 5G सर्विस रोल जल्द शुरू हो सकती है। टेलीकॉम कंपनियां जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी ने हिंट दिया की कंपनी 15 अगस्त को 5G सर्विस शुरू कर सकती है, हालांकि, इसके लिए कंपनी को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा।

Jio-5G

5G Spectrum Auction प्रक्रिया पूरी होने के बाद रिलायंस Jio ने सबसे ज्यादा वैल्यू के स्पेक्ट्रम खरीदे हैं। Reliance Jio के नए चेयरमैन आकाश अंबानी ने स्पेक्ट्रम नीलामी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद हिंट दिया है कि कंपनी 15 अगस्त तक देश में 5G सर्विस शुरू कर सकती है। Jio, Airtel और Vodafone-Idea कई महीनों से 5G की टेस्टिंग कर रहे हैं। स्पेक्ट्रम नीलामी के बाद तीनों टेलीकॉम कंपनियों की नजर अब 5G सर्विस शुरू करने पर है। Also Read - 5G Spectrum की नीलामी में जियो ने मारी बाजी, 1,50,173 करोड़ की रेस में सबसे पीछे रहा अडानी नेटवर्क

Jio के चेयरमैन आकाश अंबानी ने कहा, ‘हम आजादी का अमृत महोत्सव पूरे देश में 5G रोल आउट करके सेलिब्रेट करेंगे। जियो देश में वर्ल्ड क्लास अफोर्डेबल 5G और 5G इनेबल्ड सर्विस के लिए प्रतिबद्ध है।’ इस साल देश को आजाद हुए 75 साल हो जाएंगे, जिसके उपलक्ष्य में केन्द्र सरकार 15 अगस्त 2022 तक आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम चला रही है। आकाश अंबानी का यह स्टेटमेंट भारत में 5G सर्विस को जल्द लॉन्च करने की तरफ इशारा करती है। Also Read - 5G Spectrum की नीलामी में तीसरा दिन हुआ खत्म, 1,49,623 करोड़ तक पहुंचा आंकड़ा

जियो ने खरीदे सबसे ज्यादा स्पेक्ट्रम

5G Spectrum की नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बाद Reliance Jio ने सबसे ज्यादा 88,078 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। कंपनी ने 700MHz का एयरवेब इस नीलामी में खरीदी है, जिसे अन्य किसी टेलीकॉम कंपनी और अडानी ग्रुप ने नहीं खरीदी है। Also Read - 5G Auction Live: भारत में 5G Era की हो रही शुरुआत, जानें कितनी बदलेगी हमारी Life

इस समय भारत में 5G नेटवर्क मौजूद नहीं है। दूरसंचार विभाग (DoT) ने टेलीकॉम कंपनियों Jio, Airtel और Vodafone-Idea को ट्रायल के लिए कुछ स्पेक्ट्रम अलॉट किए हैंं। स्पेक्ट्रम की नीलामी के बाद भी कई ऐसी चुनौतियां हैं, जिसे दूर किए बिना 5G सर्विस शुरू नहीं की जा सकती है।

5G शुरू करने में कई चुनौतियां

केन्द्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने पिछले सप्ताह कहा था कि भारत में अक्टूबर तक 5G सर्विस रोल आउट किया जा सकता है। हालांकि, इस नेक्स्ट जेनरेशन टेलीकॉम सेवा को शुरू करने से पहले टेलीकॉम कंपनियों को कई चीजों पर फोकस करना होगा।सबसे पहले टेलीकॉम कंपनियों को 5G इनेबल्ड सिम कार्ड यूजर्स को अलॉट करने होंगे। इसके बाद नेटवर्क को अपग्रेड जैसी प्रक्रियाएं भी पूरी करनी होगी।

टेलीकॉम कंपनियां पिछले साल से ही 5G रेडी नेटवर्क का दावा कर रही हैं। पिछले साल की शुरुआत में Airtel ने सबसे पहले 5G टेस्टिंग की थी, जिसमें कंपनी ने कहा था कि एयरटेल का नेटवर्क 5G रेडी है। नेटवर्क अलोकेशन प्रक्रिया होने के तुरंत बाद कंपनी 5G सर्विस शुरू करने में सक्षम है। हालांकि, 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी पूरी होने के बाद यह देखना है कि टेलीकॉम कंपनियां कब तक 5G सर्विस कमर्शियली रोल आउट करेंगीं।

5G के मौजूदा एयरवेव्स (Airwaves)

रिलायंस जियो ने 5G सर्विस रोल आउट करने के लिए नीलामी में कुल 24,740 MHz (700 MHz, 800 MHz, 1800 MHz, 3300 MHz और 26 GHz) के एयरवेव खरीदे हैं। वहीं, भारती एयरटेल इंफोकॉम लिमिटेड ने कुल 19,867 MHz (900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 3300 MHz और 26 GHz) एयरवेव खरीदे हैं। जबकि, वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड ने कुल  6,228 MHz (1800 MHz, 2100 MHz, 2500 MHz, 3300 MHz और 26 GHz) और अडानी डाटा नेटवर्क लिमिटेड ने कुल 400 MHz (26 GHz) के एयरवेव खरीदे हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: August 2, 2022 9:41 AM IST
  • Updated Date: August 2, 2022 10:33 AM IST



new arrivals in india