comscore प्राइस वॉर खत्म! Jio भी Vodafone Idea, Airtel की तरह अपनी सर्विस को करेगा महंगा
News

प्राइस वॉर खत्म! Reliance Jio भी Vodafone Idea और Airtel की तरह अपनी सर्विस को करेगा महंगा

Reliance Jio के आने से टेलीकॉम सेक्टर में जो प्राइस वॉर शुरू हुआ था वो अब खत्म होने वाला है। Vodadone Idea (वोडाफोन आइडिया) और Bharti Airtel  (भारती एयरटेल) दिसंबर में टैरिफ बढ़ाएंगे, जिसके बारे में वह पहले ही घोषणा कर चुकी हैं। घाटे में चल रही इन दोनों कंपनियों को टैरिफ बढ़ाने से रेवेन्यू और ऑपरेटिंग इनकम बढ़ाने में मदद मिलेगी। लेकिन इससे मोबाइल यूजर्स का बिल बढ़ जाएगा। हालांकि अब Reliance Jio भी आने वाले हफ्तों में टैरिफ बढ़ाने जा रही है।

reliance-jio-AGM-2019-number-1-india-global-2

Reliance Jio के आने से टेलीकॉम सेक्टर में जो प्राइस वॉर शुरू हुआ था वो अब खत्म होने वाला है। Vodafone Idea (वोडाफोन आइडिया) और Bharti Airtel  (भारती एयरटेल) दिसंबर में टैरिफ बढ़ाएंगे, जिसके बारे में वह पहले ही घोषणा कर चुकी हैं। घाटे में चल रही इन दोनों कंपनियों को टैरिफ बढ़ाने से रेवेन्यू और ऑपरेटिंग इनकम बढ़ाने में मदद मिलेगी। लेकिन इससे मोबाइल यूजर्स का बिल बढ़ जाएगा। हालांकि अब Reliance Jio भी आने वाले हफ्तों में टैरिफ बढ़ाने जा रही है। टेलीकॉम सेक्टर में ये तीनों ही दिग्गज कंपनियां हैं ऐसे में प्राइस में बढ़ोतरी का असर सीधे मोबाइल यूजर्स की जेब पर पड़ेगा।

टेलीकॉम सेक्टर होगा मजबूत

Reliance Jio ने अपने एक बयान में कहा कि दूसरे टेलीकॉम कंपनियों की तरह हम भी सरकार के साथ काम करेंगे और सेक्टर को मजबूत करने के लिए टैरिफ में वाजिब बढ़ोतरी करेंगे। हालांकि रिलायंस जियो ने यह साफ किया कि टैरिफ में बढ़ोतरी इस तरह से की जाएगी, जिससे डाटा कंज्मप्शन या इंटरनेट की पहुंच पर बुरा असर न हो।

Jio के फैसले से Vodafone Idea और Airtel को मिलेगी राहत

आपको बता दें कि रिलांयस जियो ने टेलीकॉम स्पेस में 2016 में एंट्री की थी। जियोे की एंट्री से न केवल छोटी टेलीकॉम कंपनियों को अपना बिजनेस बंद करना पड़ा बल्कि वोडाफोन आइडिया को भी मर्जर करना पड़ा। 2016 के बाद ऐसा पहली बार हो रहा है कि जब तीनों कंपनियों एक साथ टैरिफ में बढ़ोतरी का फैसला लिया है। हालांकि जियो के टैरिफ में बढ़ोतरी से इसकी राइवलरी कंपनियों वोडाफोन आइडिया और भारती एयरटेल को बड़ी राहत मिलेगी।

Vodafone Idea और Airtel को हो सकता था नुकसान

ऐसा इसलिए क्योंकि अगर जियो अपना टैरिफ नहीं बढ़ाती तो वोडाफोन आइडिया और भारती एयरटेल के सब्सक्राइबर्स की संख्या में और कटौती देखने को मिल सकती थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक सितंबर सितंबर क्वॉर्टर में एयरटेल का एवरेज रेवेन्यू प्रति यूजर जहां 128 था, वहीं वोडाफोन आइडिया का एवरेज रेवेन्यू 107 रुपये था। वहीं जियो का एवरेज रेवेन्यू प्रति यूजर 120 रुपये था।

  • Published Date: November 20, 2019 9:37 AM IST