comscore इस साल 2020 में रूस के पहले अंतरिक्ष प्रक्षेपण में हुई देरी | BGR India Hindi
News

इस साल रूस के पहले अंतरिक्ष प्रक्षेपण में हुई देरी

सोवियत संघ के सोयुज-2.1ए वाहक रॉकेट द्वारा एक सैन्य उपग्रह के प्रक्षेपण में तकनीकी कारणों के चलते देरी हो गई है। इसे रूस का इस साल देश का पहला प्रक्षेपण माना जा रहा है। अंतरिक्ष उद्योग से जुड़े एक सूत्र ने टास समाचार एजेंसी को बताया, "इस प्रक्षेपण (मूल रूप से शुक्रवार के लिए निर्धारित) को 24 घंटे के लिए टाल दिया गया है।"

  • Published: January 25, 2020 7:39 PM IST
GSAT-11-main

Source: ISRO/Twitter


सोवियत संघ के सोयुज-2.1ए वाहक रॉकेट द्वारा एक सैन्य उपग्रह के प्रक्षेपण में तकनीकी कारणों के चलते देरी हो गई है। इसे रूस का इस साल देश का पहला प्रक्षेपण माना जा रहा है। अंतरिक्ष उद्योग से जुड़े एक सूत्र ने टास समाचार एजेंसी को बताया, “इस प्रक्षेपण (मूल रूप से शुक्रवार के लिए निर्धारित) को 24 घंटे के लिए टाल दिया गया है।”
सूत्र के मुताबिक, प्लेसेत्स्क प्रक्षेपण केंद्र से मेरिडियन उपग्रह के साथ सोयुज 2.1ए वाहक रॉकेट के प्रक्षेपण को तीन संभावित तकनीकी कारणों के चलते टाल दिया गया है। एक अन्य सूत्र के मुताबिक, इसे शायद अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया जा सकता है। “प्रक्षेपण में शनिवार तक नहीं, बल्कि एक अनिश्चित समय तक के लिए विलंब हो सकता है।”


सूत्रों ने आगे कहा कि प्रक्षेपण को टाल दिए जाने का आदेश शुक्रवार को सुबह दस बजे रॉकेट में ईंधन भरने से पहले ही दे दिया गया था। रूस में अंतरिक्ष बलों के कमांडर कर्नल-जनरल अलेक्जेंडर गोलोवको ने पहले बताया था कि रक्षा मंत्रालय साल 2020 के जनवरी माह में एक और मेरिडियन-एम
उपग्रह को लॉन्च करेगा।

पहला प्रक्षेपण इसी लॉन्च पैड से 11 दिसंबर, 2019 को किया गया। मेरिडियन दूसरी पीढ़ी का संचार उपग्रह है, जिसने मोलनिया और रादुगा अंतरिक्ष वाहनों को प्रतिस्थापित किया। सक्रिय उपग्रहों का जीवनकाल सात साल का है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: January 25, 2020 7:39 PM IST