comscore Samsung का 190GB डेटा हुआ लीक, कंपनी ने कहा यूजर की पर्सनल जानकारी है सुरक्षित
News

Samsung का 190GB डेटा हुआ लीक, कंपनी ने कहा यूजर की पर्सनल जानकारी है सुरक्षित

सैमसंग ने सोमवार को ब्लूमबर्ग न्यूज को दिए एक बयान में इस हैक की पुष्टि की और कहा कि उसे कुछ "आंतरिक कंपनी डेटा" से संबंधित साइबर सुरक्षा उल्लंघन का सामना करना पड़ा था।

Samsung-logo-inverted

(Image: Pixabay)


Samsung ने सोमवार, 7 मार्च को अनाउन्स किया कि ये एक साइबरसिक्योरिटी ब्रीच का शिकार हो गए हैं। कंपनी ने बताया कि इस ब्रीच में इनका इंटर्नल कंपनी डेटा लीक हुआ है। सैमसंग का कहना है कि इस हैक में सैमसंग गैलेक्सी स्मार्टफोन्स का सोर्स कोड भी लीक हो गया है, लेकिन इसमें इनके कस्टमर्स और कर्मचारियों का पर्सनल डेटा शामिल नहीं है। Also Read - 6000mAh बैटरी, 48MP कैमरा, 6GB RAM वाले Samsung Galaxy F22 पर मिल रहा शानदार Discount, सिर्फ ₹399 प्रति महीने में खरीदने का मौका

हैकिंग ग्रुप Lapsus$ ने पिछले हफ्ते Samsung के सिस्टम को हैक करने का क्लेम किया था। Bleepingcomputer के मुताबिक, इस इक्स्टॉर्शन एंटिटी ने सैमसंग के लीक्ड डेटा को तीन फाइल में बांटा था, जिनका साइज करीब 190GB है। इस ग्रुप ने कुछ वक्त पहले Nvidia पर भी साइबर हमला किया था। Also Read - Samsung का बड़ा फैसला, मोबाइल फोन प्रोडक्शन में करेगा बड़ी कटौती, जानें वजह

Samsung data breach

Bleepingcomputer की रिपोर्ट के मुताबिक, Lapsus$ ने सैमसंग के डेटा को टोरेंट पर पब्लिश किया है। हैकर ग्रुप ने कहा है कि इसमें नीचे लिखा हुआ डेटा शामिल है: Also Read - Samsung ने शोकेस किया 200MP HP1 कैमरा सेंसर, मिलेगी DSLR वाली इमेज क्वालिटी

  • सेंसिटिव ऑपरेशन मेन इस्तेमाल होने Samsung TrustZone environment के Trusted Applet (TA) का सोर्स कोड
  • सभी बायोमेट्रिक अनलॉक संचालन के लिए एल्गोरिदम
  • सभी हाल के सैमसंग डिवाइस के लिए बूटलोडर सोर्स कोड
  • क्वालकॉम से गोपनीय सोर्स कोड
  • सैमसंग के एक्टिवेशन सर्वर के लिए सोर्स कोड
  • API और सेवाओं सहित सैमसंग अकाउंट को अधिकृत और प्रमाणित करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली तकनीक के लिए फुल सोर्स कोड

सैमसंग ने सोमवार को ब्लूमबर्ग न्यूज को दिए एक बयान में इस हैक की पुष्टि की और कहा कि उसे कुछ “आंतरिक कंपनी डेटा” से संबंधित साइबर सुरक्षा उल्लंघन का सामना करना पड़ा था। कंपनी ने बयान में हैकिंग के पीछे समूह की पहचान नहीं की है। इसने कहा:

“हमारे प्रारंभिक विश्लेषण के अनुसार, उल्लंघन में गैलेक्सी उपकरणों के संचालन से संबंधित कुछ स्रोत कोड शामिल हैं, लेकिन इसमें हमारे उपभोक्ताओं या कर्मचारियों की व्यक्तिगत जानकारी शामिल नहीं है। वर्तमान में, हमारे हिसाब से इस ब्रीच का हमारे व्यवसाय या ग्राहकों पर किसी तरह का प्रभाव नहीं पड़ेगा।”

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: March 7, 2022 11:37 PM IST



new arrivals in india