comscore दूरसंचार और आईटी उद्योग को बजट से बड़ी उम्मीदें | BGR India
News

दूरसंचार और आईटी उद्योग को बजट से बड़ी उम्मीदें

सरकार के मेक इन इंडिया, डिजिटल भारत और स्किल इंडिया कार्यक्रमों के कारण दूरस

  • Published: February 22, 2016 10:51 AM IST
telecom-tower1

सरकार के मेक इन इंडिया, डिजिटल भारत और स्किल इंडिया कार्यक्रमों के कारण दूरसंचार सहित समस्त प्रौद्योगिकी उद्योग को आगामी आम बजट से बड़ी उम्मीदें लगी हुई हैं। बाजार का ध्यान खास तौर से इस पर है कि केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली देश के स्टार्ट-अप परितंत्र को क्या देंगे। साथ ही यह कि वे सिर्फ नए उद्यमियों को ही नहीं बल्कि नए उद्यमों में निवेश करने वालों को क्या सुविधा देंगे।

नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एंड सर्विसिस कंपनीज (नैसकॉम) के अध्यक्ष बी.वी.आर. मोहन रेड्डी ने कहा, “स्टार्ट-अप के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर में छूट समय की जरूरत है।”

उन्होंने कहा, “2016-17 के बजट में पूंजीगत लाभ कर में छूट और नए निवेश की स्थिति में घाटे को आगे बढ़ाने जैसी सुविधा के साथ स्टार्ट-अप को उत्साहित करने की जरूरत है।”

MWC 2016: लेनोवो ने लॉन्च किए दो नए स्मार्टफोन वाइब के5 प्लस और वाइब के5, जानें फीचर्स और स्पेसिफिकेशन

स्वास्थ्य सेवा प्रदाता कंपनी केयर24 के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विपिन पाठक ने कहा, “मेक इन इंडिया और स्टार्ट-अप इंडिया जैसी पहलों के लिए बजट को अवसंरचना और नीति के स्तर पर सहयोग देना होगा। उद्यमियों को जमीनी स्तर पर सुरक्षा महसूस होनी चाहिए।”

बजार के लिए इलेक्ट्रॉनिक हार्डवेयर विनिर्माण, शोध एवं विकास (आरएंडडी) और बौद्धिक संपदा अधिकार (आईपीआर) सृजन जैसे क्षेत्र में प्रोत्साहन शीर्ष वरीयता है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: February 22, 2016 10:51 AM IST