comscore ई-कामर्स बाजार मंचों में कोई ‘जालसाजी नहीं’ की नीति होनी चाहिये | BGR India
News

ई-कामर्स बाजार मंचों में कोई ‘जालसाजी नहीं’ की नीति होनी चाहिये

ई-कामर्स मार्किट प्लेस चलाने वाली कंपनियों की ‘‘जाली माल नहीं’’ की नीति होनी चाहिये।

  • Updated: February 15, 2022 4:56 PM IST
ecommerce-market

सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग क्षेत्र के विशेषज्ञ टी.वी. मोहनदास पई ने आज कहा कि ई-कामर्स मार्किट प्लेस चलाने वाली कंपनियों की ‘‘जाली माल नहीं’’ की नीति होनी चाहिये, ताकि इन कंप्यूटर नेटवर्क साइटों के जरिये किसी भी तरह के जाली और नकली उत्पादों की बिक्री को रोका जा सके। Also Read - Dilli Bazaar E-Portal हुआ लॉन्च, अब घर बैठे सरोजिनी और पालिका मार्केट से कर पाएंगे शॉपिंग

Also Read - OnePlus TV 43 Y1S Pro की पहली सेल आज, इन ऑफर्स के साथ खरीदें बजट टीवी

पई ने यहां पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘ई-कामर्स मार्किट प्लेस को अपनी एक ‘‘नकली माल नहीं’’ नीति बनानी चाहिये। इससे इन माध्यमों से नकली उत्पादों की बिक्री पर रोक लगाने में मदद मिलेगी। ’’ Also Read - Apple iPhone 11 और iPhone 12 को सस्ते में खरीदने का मौका, कीमत 49900 रुपये से शुरू

पई से पूछा गया था कि आनलाइन उत्पादों की बिक्री करने वाली फ्लिपकार्ट और आमेजन जैसी ई-कामर्स साइट को नकली उत्पादों की बिक्री रोकने के लिये क्या कदम उठाने चाहिये।

कुछ दिन पहले ही अमेरिका की लाइफस्टाइल और चप्प्ल, जूते के ब्रांड स्कैचर्स ने फ्लिपकार्ट और उसके मंच के चार विक्रेताओं के खिलाफ नकली उत्पाद बेचने का आरोप लगाते हुये मामला दर्ज किया था। कंपनी ने दिल्ली उच्च न्यायालय में यह मामला दर्ज किया।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: January 1, 2018 11:00 AM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 4:56 PM IST



new arrivals in india