comscore TRAI के न्यू मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी नियम आज से Live: महज 3 दिनों में बदल लें दूसरा SIM | BGR India Hindi
News

TRAI के न्यू मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी नियम आज से हुए शुरू: महज 3 दिनों में बदलें ऑपरेटर

इस नए नियम के लागू होने से पहले मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के लिए ज्यादा से ज्यादा 15 दिनों का समय लगता था। लेकिन अब नए नियमों के बाद अब ज्यादा से ज्यादा 5 दिनों का ही समय मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी में लगेगा।

telecom-operators

भारत में आज यानी 16 दिसंबर से मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (MNP) के नए नियम लागू हो गए हैं। इन नए नियमों के बाद मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी का प्रोसेसर पहले से आसान और फास्ट हो गया है। अब नए नियमों के लागू होने के बाद यूजर को एक यूनिक पोर्टिंग कोड जनरेट करने की जरूरत पड़ेगी। वहीं एक ही सर्किल में मोबाइल नंबर पोर्ट करवाने के लिए ज्यादा से ज्यादा तीन दिन का समय लगेगा। हालांकि आप अगर दूसरे सर्किल के किसी नंबर को पोर्ट करा रहे हैं तो इसके लिए ज्यादा से ज्यादा पांच दिनों का समय लगेगा। हालांकि ये सभी वर्किंग डेज होने चाहिए।
इस नए नियम के लागू होने से पहले मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के लिए ज्यादा से ज्यादा 15 दिनों का समय लगता था। लेकिन अब नए नियमों के बाद अब ज्यादा से ज्यादा 5 दिनों का ही समय मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी में लगेगा। हम आपको इन नियमों की विस्तार से जानकारी दे रहे हैं। Also Read - अपने टेलीकॉम ऑपरेटर को मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (MNP) के जरिए ऐसे बदले

क्या है मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी उपभोक्ता को एक ऐसी ताकत प्रदान करता है जिसके माध्यम वह अपना नंबर रखकर सेवा का अधिकार बदल सकता है। अर्थात नंबर वही होगा लेकिन सेवा प्रदाता (ऑपरेटर) बदल सकता है। उपभोक्ता जिस ऑपरेटर की चाहे उसकी सर्विस ले सकता है। इसे नंबर पोर्ट करना कहते हैं। उदाहरण के लिए यदि आपके पास वोडाफोन का नंबर है और आप सेवा से परेशान हैं तो अपने पुराने नंबर को रख कर सेवा प्रदाता बदल सकते हैं। अर्थात एयरटेल या आइडिया सहित किसी अन्य ऑपरेटर का चुनाव कर सकते हैं। Also Read - नेशनल मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी की 5 खास बातें

किन्हें होगा फायदा

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी और नेशनल मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी का फायदा उन सभी लोगों को होगा जो अपने सर्विस प्रदाता की सेव से त्रस्त थे। अब वे आसानी से अपना नंबर बदल सकते हैं। इसके साथ ही उन लोगों को सबसे ज्यादा फायदा होगा जो स्थाई रूप से एक राज्य से किसी दूसरे राज्य में व्यवस्थित हो गए हैं। अब वे नए राज्य में अपना पुराना नंबर पोर्ट कर सकते हैं जिससे काॅलिंग के दौरान रोमिंग चार्ज चुकाना नहीं होगा। इसके साथ ही नए सर्किल में सर्विस प्रदाता भी बदल सकते हैं जिसकी नेटवर्क सर्विस बेहतर हो उसकी सेवा ले सकते हैं। हालांकि फिलहाल नेशनल मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी सेवा का लाभ जम्मू-कश्मीर और असम व उत्तर-पूर्व के राज्यों में नहीं लिया जा सकता। सुरक्षा करणों की वजह से नेशनल मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी सेवा को यहां बाद्य किया गया है।

मोबाइल नंबर पोर्ट कैसे कराएं और चार्ज 

सबसे पहले आपको एक 8-डिजिट का यूनिक पोर्टिंग कोड (UPC) जनरेट करना होगा। इसके लिए आपको एक नया SMS कंपोज करना है और उसमें PORT <मोबाइल नंबर> लिख कर 1900 पर भेजना होगा। उदहारण के लिए अगर आपका नंबर 9820098200 है तो SMS कुछ ऐसा होगा – PORT 9820098200

दूसरा स्टेप

अब आपके पास 1901 नंबर से एक SMS आएगा जिसमें UPC कोड और एक एक्सपायरी डेट होगी। आपको कोड मिलने में एक दिन से 7 दिन तक का समय लग सकता है। आपको इस बात का ध्यान रखना है कि कोड मिलने के बाद उसमें लिखी एक्सपायरी डेट से पहले-पहले आपको पोर्टिंग करवानी होगी।

तीसरा स्टेप

अगर आपने अपना मोबाइल नंबर पहले से ही आधार कार्ड से लिंक किया हुआ है, तो आपको eKYC वेरिफिकेशन के लिए ऑपरेटर स्टोर में सिर्फ अपना आधार कार्ड ले जाना होगा। अगर आपके पास आधार कार्ड नहीं है तो आपको अपनी ID, एड्रेस प्रूफ और फोटोग्राफ्स ले जानी होगी।

चौथा स्टेप

अब आपको ऑपरेटर स्टोर पर पोर्टिंग कोड और जरूरी डाक्यूमेंट्स के साथ जाना होगा। अब आपको मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी फॉर्म को भरना होगा और पोर्टिंग कोड के साथ नए ऑपरेटर को देना होगा। ध्यान रखें कि मोबाइल नंबर पोर्ट करना तभी संभव है जब आपके सारे पेंडिंग (ओवरड्यू) सेटल हो। ऐसा ना होने पर आप नंबर पोर्ट नहीं कर पाएंगे। आपको अब बस नया सिम खरीदना है और प्रीपेड और पोस्टपेड कनेक्शन में से एक को चुनना है और आखिर में एक टैरिफ प्लान को चुनना है। एक बार जब आपका पुराना नंबर डीएक्टिवेट हो जाए, तब आपको नया सिम मोबाइल में डालना है। ऐसा करते ही अब आप नया कनेक्शन चलाने के लिए तैयार हैं। आपको बता दें कि एक बार नंबर पोर्ट करने के 90 दिनों तक आप दूसरे ऑपरेटर पर दोबारा पोर्ट नहीं कर सकते हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: December 16, 2019 4:15 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers