comscore Twitter ने यूक्रेन संबंधी भ्रम फैलाने वाले 50,000 से ज्यादा कंटेंट पर लिया एक्शन, जानें पूरी डिटेल
News

Twitter ने यूक्रेन संबंधी भ्रम फैलाने वाले 50,000 से ज्यादा कंटेंट पर लिया एक्शन, जानें पूरी डिटेल

Twitter ने रूस-यूक्रेन वॉर के बीच भ्रम या गलत जानकारी फैलाए जाने वाले कंटेंट और उनके ट्विटर अकाउंट्स के खिलाफ एक्शन लिया है। आइए हम आपको इस खबर के बारे में पूरी जानकारी देते हैं।

twitter

Twitter ने अपने एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए जानकारी दी है कि उसने अपने प्लेटफॉर्म से 50,000 से ज्यादा ऐसे पोस्ट को रिमूव कर दिया है, जिसने यूक्रेन पर रूस के हमले पर ट्विटर की मैन्यूपुलेटेड मीडिया पॉलिसी का उल्लंघन किया है। Also Read - Jack Dorsey के अंतिम इस्तीफे के साथ Twitter में एक 'युग' का अंत

इसके अलावा Twitter ने करीब 75000 से ज्यादा ऐसे अकाउंट्स को भी अपने प्लेटफॉर्म्स से रिमूव किया है, जो अप्रमाणिक व्यवहार और स्पैम के अंतर्गत आ रहे थे। हालांकि इन अकाउंट्स में ऐसे यूजर्स भी शामिल थे जो विशेष रूप से युद्ध प्रचार में शामिल नहीं थे, लेकिन इसमें #IStandWithPutin से जुड़े पोस्ट वाले अकाउंट्स शामिल थे। ये एक हैशटैग है, जो पिछले महीने वायरल हो गया था। Also Read - Twitter पर लगा 15 करोड़ डॉलर का जुर्माना, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

Twitter ने की कार्यवाई

ट्विटर के ब्लॉग पोस्ट के अनुसार Russia-Ukraine War में ट्विटर ने देखा कि इस बार का मामला पुराने मामलों जैसा नहीं था, जिसमें किसी एक सरकार या एक राज्य सूचना अभियान को दोष देना था, बल्कि इसमें बहुत सारे अभिनेताओं ने प्लेटफॉर्म का गलत इस्तेमाल किया है। उन्होंने पुरानी फुटेज को फिर से प्रसारित किया, जैसे कि वो नया हो। वहीं बहुत सारे यूक्रेन के फंडरेसिंग स्कैम्स को भी मंशा के रूप में आक्रमण के मद्देनजर ही सामने पेश किया गया। Also Read - Twitter ‘blue tick’ केस: दिल्ली हाई कोर्ट ने पूर्व CBI चीफ पर लगाया 10 हजार का जुर्माना

पिछले महीने ट्विटर ने यूजर्स से किसी भी ट्वीट को प्रसार ना करने का वादा किया था, जिसमें राज्य से संबद्ध मीडिया के लिंक शामिल थे। ट्विटर का कहना है कि उसने 28 फरवरी से 61, 000 से ज्यादा यूनिक ट्वीट्स को लेबल किया है, जिसमें राज्य द्वारा संचालित मीडिया के लिंक शामिल हैं। ट्विटर का अनुमान है कि ऐसा करने से इन ट्वीट्स की पहुंच लगभग 30 प्रतिशत कम हो गई।

रूस ने सबकुछ किया बैन

ट्विटर ने क्रेमलिन समर्थित मीडिया जैसे RT और Sputnik (इनके अलावा अन्य राज्य द्वारा संचालित मीडिया) को अपने वेरीफाइड अकाउंट्स का संचालन जारी रखने की अनुमति दी है, लेकिन लेबल और तदनुसार आउटलेट्स के ट्वीट को डिमोट करता है। दोनों प्रोपेगेंडा आउटलेट्स को भी ट्विटर पर एडवरटाइजमेंट करने से बैन लगा दिया गया है।

यूक्रेन पर आक्रमण के बारे में गलत सूचना सोशल मीडिया पर, विशेष रूप से भ्रामक तस्वीरों और वीडियो के रूप में फैल गई है। रूस की सरकार ने अपने नागरिकों के लिए Google, Facebook, Twitter और TikTok समेत तमाम वेस्टर्न ऑपरेटेड प्लेटफॉर्स को बैन कर दिया है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: March 17, 2022 4:52 PM IST
  • Updated Date: March 17, 2022 4:58 PM IST



new arrivals in india