comscore Unisoc चिपसेट के फोन यूज करने वाले यूजर्स हो जाएं सावधान! कहीं नुकसान ना हो जाएं
News

Unisoc चिपसेट के फोन यूज करने वाले यूजर्स हो जाएं सावधान! कहीं नुकसान ना हो जाएं

Unisoc चिपसेट वाला फोन अगर आपके पास है, तो आप भी इस खबर को ध्यान से पढ़िए। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इसी चिपसेट वाले डिवाइस में एक्सपर्ट्स को कुछ क्रिटिकल बग्स मिले हैं और उनकी वजहों से यूजर्स को बड़ा नुकसान भी हो सकता है। आइए हम आपको इस खबर के बारे में बताते हैं।

UNISOC chipset

Image Credit: UNISOC


Unisoc की चिपसेट का नाम पिछले कई महीनों से लगातार सुनाई दे रहा है। इस चिपसेट के साथ फोन कम कीमत में लॉन्च किए जाते हैं। चीन की इस सेमीकंडक्टर फर्म Unisoc ने हाल ही में बजट रेंज के बहुत सारे डिवाइस में अपने SoCs चिपसेट का यूज किया है। अब एक रिपोर्ट से पता चल रहा है कि Unisoc चिपसेट वाले स्मार्टफोन्स में कुछ क्रिटिकल सिक्योरिटी बग्स हैं, जिनसे यूजर्स को नुकसान झेलना पड़ सकता है। Also Read - 5G के जमाने में नोकिया ने चुपके से लॉन्च किया Nokia 105 2G फीचर फोन, जानें क्या है खास?

Unisoc चिपसेट में मौजूद कुछ गंभीर बग्स

चेक प्वाउंट रिसर्च की लेटेस्ट रिपोर्ट के मुताबिक Unisoc चिपसेट वाले स्मार्टफोन्स में सिक्योरिटी से संबंधित बहुत सारी समस्याएं सामने आ रही है। चेक प्वाउंट सॉफ्टवेयर के सिक्योरिटी रिसर्च Slava Makkaveev ने बताया कि, अटैकर यूजर्स को इन बग्स के जरिए नुकसान पहुंचाने के लिए रेडियो स्टेशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। Also Read - Nokia C20 Plus हो सकता है 5,000mAh बैटरी, 3GB RAM और डुअल रियर कैमरा सेटअप से लैस, जानें अन्य प्रमुख स्पेसिफिकेशंस

आपको बता दें कि Unisoc चिपसेट की ये दिक्क्तें सबसे पहले Motorola Moto G20 पर देखी गई है। यह फोन Unisoc T700 चिपसेट पर रन करता है। इसके अलावा भी रिसर्चर्स ने बाकी Unisoc चिपसेट की डिवाइस पर भी इन सिक्योरिटी प्रॉब्लम्स को डिटेक्ट किया है। Also Read - Nokia C20 Plus और C30 के फीचर्स लीक, बड़ी बैटरी के साथ होंगे लॉन्च

इस चिपसेट वाले डिवाइस में आ रही समस्या

चेक प्वाउंट रिसर्च के एक्सपर्ट्स ने इस चिपसेट वाले डिवाइस में आने वाली प्रॉब्लम्स और बग्स के बारे में मई 2022 में भी कंपनी को आगाह कर दिया था और सारे तथ्यों को भी सामने रख दिया था। अब चीन की इस चिप मेकर कंपनी ने Unisoc चिपसेट वाले डिवाइस में आ रही इन समस्याओं को स्वीकारा है और जल्द ही इसे फिक्स करने का आश्वासन भी दिया है।

Makkaveev ने यूजर्स की परेशानी के बारे में बताते हुए कहा कि, फिलहाल इस चिपसेट वाले Android यूजर्स कुछ भी नहीं कर सकते लेकिन उम्मीद है कि कंपनी जल्द ही एक बढ़िया सिक्योरिटी पैच रिलीज करेगी, जिनसे यूजर्स के डिवाइस में मौजूद इन बग्स को खत्म किया जा सकेगा।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 3, 2022 10:33 AM IST



new arrivals in india