comscore
News

अगस्त महीने में UPI के जरिए हुए 30 करोड़ से ज्यादा ट्रांजैक्शन

जुलाई के मुकाबले यूपीआई ट्रांजैक्शन की संख्या में अगस्त महीने में 32% की बढ़ोतरी देखने को मिली है।

unified-payments-interface-2.0

Image Credit: NPCI


इंटर बैंक ट्रांजैक्शन सिस्टम यूनाइटेड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) ने अगस्त महीने में 30 करोड़ मंथली ट्रांजैक्शन का आंकड़ा पार कर लिया है। यूपीआई ट्रांजैक्शन सिस्टम को नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने डेवलप किया है।

इकनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक यूपीआई के जरिए अगस्त में 31.2 करोड़ ट्रांजैक्शन हुए। यह डाटा NPCI की तरफ से जुटाया गया है। जुलाई के मुकाबले यूपीआई ट्रांजैक्शन की संख्या में अगस्त महीने में 32% की बढ़ोतरी देखने को मिली है। जुलाई महीने में 23.56 करोड़ ट्रांजैक्शन दर्ज हुए थे।

पिछले साल सितंबर में यूपीआई के जरिए 30 करोड़ ट्रांजैक्शन हुए थे, इस ट्रांजैक्शन की वैल्यू 5,292 करोड़ रुपये थी। वहीं इस साल अगस्त में डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए 54,000 करोड़ रुपये का ट्रांसफर किया गया है। NPCI ने यूपीआई के अपग्रेड वर्जन UPI 2.0 को मुंबई में पिछले महीने लॉन्च किया था।

कंपनी ने अपग्रेड वर्जन में कुछ सुधार किए थे, जिसमें ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी, वन टाइम मैंडेट, इनवॉइस इन द इनबॉक्स, और साइन इंटेंट एंड QR जैसी सर्विसें शामिल थी। इसके अलावा ट्रांजैक्शन लिमिट को बढ़ाकर 2 लाख रुपये कर दिया गया था। भारत में 11 ब्रांड हैं जो यूपीआई के अपडेट वर्जन को सपोर्ट करती है। इनमें स्टेंट बैंक ऑफ इंडिया, HDFC बैंक, ICICI बैंक, एक्सिस बैंक, IDBI बैंक, RBL बैंक, यस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, इंडसइंड बैंक, फेडरल बैंक और HSBC जैसे बैंक शामिल हैं।

  • Published Date: September 3, 2018 1:28 PM IST