comscore Iron Man सूट - Iron Man सूट develop for इंडियन आर्मी, देखें कैसे करता है काम
News

Iron Man सूट को एक युवक ने इंडियन आर्मी के लिए किया डेवलप, देखें कैसे करता है काम

Iron Man फ्रेंचाइजी से प्रभावित होकर एक पार्ट टाइम कर्मचारी ने Iron-Man सूट को डेवलप किया है। इस कर्मचारी का दावा है कि इस सूट को बनाने का मकसद इंडियन आर्मी सोल्जर की मदद करना है, जिससे वह अपने दुश्मनों को बचाव कर सके। यह शख्स वाराणासी में एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी में कार्यरत है।

iron man

Iron Man फ्रेंचाइजी से प्रभावित होकर एक पार्ट टाइम कर्मचारी ने Iron-Man सूट को डेवलप किया है। इस कर्मचारी का दावा है कि इस सूट को बनाने का मकसद इंडियन आर्मी सोल्जर की मदद करना है, जिससे वह अपने दुश्मनों को बचाव कर सके। यह शख्स वाराणासी में एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी में कार्यरत है। इस शख्स का नाम श्याम चौरसिया (Shyam Chaurasia) है, जो अशोका इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट में काम करता है। यह एक प्रोटोटाइप सूट है जिसका मकसद युद्ध के दौरान दुश्मनों से इंडियन आर्मी की मदद करना है। ANI की रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हुआ है।
यह एक मेटल सूट है जिसको इंडियन आर्मी को देखते हुए डिजाइन किया गया है। एनकाउंटर और आतंकवादियों से लड़ने के दौरान यह सूट इंडियन आर्मी की मदद करेगा। इस शख्स के मुताबिक अभी यह सूट बस प्रोटोटाइप है, लेकिन युद्ध के दौरान यह सूट आर्मी की मदद करेगा।

इस सूट को बनाने वाले शख्स के मुताबिक इस सूट को बनाने में गियर और मोटर्स का इस्तेमाल किया गया है। इसके अलावा इसमें मोबाइल कनेक्शन भी है, जिससे इसे रिमोटली इस्तेमाल किया जा सकता है। इस सूट में सेंसर भी हैं जो जवानों को उस समय मदद करेंगे जब उन पर कोई पीछे से हमला करने वाला होगा। अभी इस सूट को जुगाड़ टेक्नोलॉजी के साथ निर्मित किया गया है, लेकिन अधिक फंड से इसके वर्किंग मॉडल को बेहतर बनाया जा सकता है।

चौरसिया ने कहा कि मैं सरकारी एजेंसी DRDO से कहना चाहूंगा कि वो ऐसे सूट को इंडियन आर्मी के लिए डेवलप करें जिससे पाकिस्तान से युद्ध के दौरान जवानों की मदद की जा सके, क्योकि हमारे हर जवान की लाइफ काफी कीमती है। उन्होंने सरकार से भी इस मामले पर मदद की गुहार लगाई है, जिससे इंडियन आर्मी की मदद की जा सके।

  • Published Date: November 19, 2019 10:57 AM IST
  • Updated Date: November 19, 2019 1:41 PM IST