comscore WannaCry ransomware virus ने बेरहामपुर के सिटी हॉस्पिटल को बनाया अपना निशाना, हैकर्स ने की पैसों की मांग | BGR India
News

WannaCry ransomware virus ने बेरहामपुर के सिटी हॉस्पिटल को बनाया अपना निशाना, हैकर्स ने की पैसों की मांग

बेरहामपुर के सिटी अस्पताल के कार्य में बाधक बन रहा है WannaCry ransomware virus।

ransomware-virus-attack

बेरहामपुर सिटी हॉस्पिटल के इनफार्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम को WannaCry ransomware virus ने अपना निशाना बना लिया है। इस वायरस के कारण ई-मेडिसिन सेवा और ASHA के कर्मचारियों का वेतन सोमवार से प्रभावित हो रहा है।

इसे भी देखें: एंटीकाइथेरा मैकेनिज्म की खोज पर गूगल ने बनाया डूडल

आपको बता दें कि अस्पताल के इनफार्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम के एक्सेस को रीस्टोर करने के लिए 300 US डॉलर की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा सूत्रों के हवाले से सामने आ रहा है कि अस्पताल का अत्यंत महत्त्वपूर्ण डाटा और अस्पताल की ई-मेल आईडी को भी हैक कर लिया गया है। सामने ये भी आ रहा है कि इस मूदे को लेकर अपस्ताल के अधिकारीयों ने पुलिस में शिकायत भी दर्ज की है।

हालाँकि सुचना एवं प्रोद्योगिकी मंत्री चन्द्र सारथी बेहेरा ने इस समस्या के निरिक्षण के लिए एक टेक्निकल टीम को बेरहामपुर के सिटी अस्पताल भेजा है। और “इस मुद्दे को लेकर आगे की कार्रवाई तभी करी जायेगी जब विभाग को इस बात की पूओरी तरह से पुष्टि हो जायेगी कि ये जो साइबर हमला हुआ है, वह WannaCry ransomware virus से ही है।”

इसे भी देखें: ऐसे देख सकते हैं गूगल I/O 2017 का लाइव स्ट्रीम

गौरतलब हो कि पिछले कुछ दिनों से सामने आ रहा है कि दुनियाभर के विभिन्न देशों में इस तरह के हमले हुए हैं। इसी को देखते हुए क्राइम ब्रांच ओडिशा पुलिस ने इस वायरस को लेकर एक एडवाइजरी सरकार और राज्य के अन्य विभागों को जारी की है। इस एडवाइजरी को (http://odisha.gov.in) वेबसाइट पर अपलोड भी किया गया है।

इसके अलावा खबरें ये भी आ रही हैं कि तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम के कुछ कंप्यूटर्स को इस वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया है। लगभग 10 कंप्यूटर्स यहाँ प्रशासकीय कार्यों के लिए इस्तेमाल में लिए जाते हैं, इन सभी को WannaCry ransomware virus ने प्रभावित किया है। सुरक्षा को देखते हुए प्रशासन ने अन्य 20 कंप्यूटर्स पर भी काम करना बंद कर दिया है।

तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम के नए एग्जीक्यूटिव ऑफिसर अनिल कुमार सिंघल ने बुधवार को इस बात की घोषणा की है कि, “उनके सिस्टम इस वायरस से प्रभावित हुए हैं। हालाँकि जितने भी कंप्यूटर्स इसकी चपेट में आये हैं वह प्रशासकीय कार्यों के लिए ही इस्तेमाल किये जा रहे थे। ये सिस्टम महज़ टिकटों की सेल और अन्य ऐसे ही कुछ कार्यों के लिए इस्तेमाल किये जा रहे थे। अभी भी ये वायरस इन सिस्टम को अपनी चपेट में लिए हुए है।”

सोर्स:

इसे भी देखें: प्रोमो विडियो में सामने आये दो आगामी नोकिया फोंस, एक में हो सकता है ड्यूल कैमरा सेटअप

  • Published Date: May 17, 2017 1:37 PM IST
  • Updated Date: May 17, 2017 2:10 PM IST