comscore
News

क्या है व्हॉट्सएप पर मिलने वाला मोमो चैलेंज जो ले रहा है बच्चों की जान?

अर्जेंटीना में इस चैलेंज से पहली मौत हुई थी। यहां एक 12 साल की लड़की ने आत्महत्या कर ली थी।

Untitled design (2)

मोमो चैलेंज को लेकर आईटी मिनिस्ट्री ने एडवाइजरी जारी की है। इसमें बच्चों को इस जानलेवा खेल से दूर रखने की सलाह दी गई है। इसके अलावा मिनिस्ट्री ने अभिभावकों को बच्चों की असमान्य सोशल मीडिया गतिविधियों और व्यवहार पर नजर रखने की भी सलाह दी है। बता दें कि मोमो चैलेंज में बच्चों को उकसाया और आत्महत्या करने पर मजबूर किया जाता है। यह चैलेंज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म व्हॉट्सएप के जरिए बच्चों को दिया जाता है। आइये जानते हैं आखिर क्या है यह मोमो चैलेंज और इसमें किस तरह के चैलेंज मिलते हैं…

क्या है मोमो चैलेंज?
मोमो चैलेंज गेम का लिंक बच्चों को व्हॉट्सएप के जरिए मिलता है। इसलिए व्हॉट्सएप पर मिलना वाला ऐसा कोई भी अननॉन लिंक न खोलें। संभवत: यह मोमो चैलेंज हो सकता है। इस चैलेंज को किसने बनाया और यह कैसे आगे बढ़ा इसे लेकर अभी कोई पुख्ता जानकारी नहीं है। लेकिन माना जाता है कि यह चैलेंज पहले फेसबुक से शुरू हुआ था।

अर्जेंटीना में हुई थी इस चैलेंज से पहली मौत
अर्जेंटीना में इस चैलेंज से पहली मौत हुई थी। यहां एक 12 साल की लड़की ने इस चैलेंज को पूरा करने को लेकर आत्महत्या कर ली थी। लड़की ने अपने चैलेंज में मिले टास्क का वीडियो बनाया और उसके बाद आत्महत्या कर ली।

क्या है यह मोमो?
मोमो एक गुड़िया की तरह तस्वीर है जिसकी अजीब सी शक्ल है। यह देखने में डरावनी लगती है।इसकी आंखें बड़ी-बड़ी हैं और इसके तस्वीर के जरिए बच्चों का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश की जा रही है। इस चैलेंज में मिलने वाले ज्यादातर टास्क हिंसक होते हैं और आखिरी में आत्महत्या करनी पड़ती है।

  • Published Date: August 31, 2018 11:38 AM IST