comscore
News

WhatsApp Plus जैसी थर्ड-पार्टी ऐप्स यूज करने वालों का अकाउंट होगा बैन

यह बैन स्थाई नहीं होगा, यहां तक की यूजर्स को स्विच करने से पहले उनकी चैट को बैकअप करने की सलाह भी दी जाएगी।

whatsapp-stock

साइबर क्राइम की घटनाओं को बढ़ते देख फेसबुक के स्वामित्व वाली मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप उन यूजर्स का अकाउंट बैन कर रहा है, जो WhatsApp Plus और GB WhatsApp जैसी ऐप्स का इस्तेमाल कर रहे हैं। इन मॉडिफाइड मैसेजिंग ऐप्स को थर्ड-पार्टी डेवलपर्स ने डेवलप किया है। यही वजह है कि कंपनी इन ऐप्स की सिक्योरिटी को वैलिडेट नहीं कर पाती है। इसके अलावा यह अन-ऑफिशियल ऐप्स ऑफिशियल ऐप की टर्म और सर्विस का भी उल्लंघन करती है।

कंपनी ने सोमवार को एक पोस्ट में लिखा कि “यदि आपको एक इन-ऐप मैसेज मिलता है, जिसमें यह लिखा हो कि ‘आपके अकाउंट को अस्थायी रूप से बैन कर दिया गया है’ तो इसका मतलब यह है कि आप व्हाट्सएप का अन-सपोर्टेड वर्जन चला रहे हैं। यदि ऐसा है और आप अपना अकाउंट बिना किसी दिक्कत के चलाना चाहते हैं, तो आपको व्हाट्सएप का ऑफिशियल वर्जन डाउनलोड और इंस्टॉल करना होगा।”

यह बैन स्थाई नहीं होगा, यहां तक की यूजर्स को स्विच करने से पहले उनकी चैट को बैकअप करने की सलाह भी दी जाएगी। कंपनी ने कहा है कि बैन किए गए यूजर्स के द्वारा प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से व्हाट्सएप डाउनलोड करते ही वें वापस सर्विस का इस्तेमाल कर सकेंगे।

व्हाट्सएप ने अपनी ऑफिशियल ऐप के FAQ पोस्ट में भी ऑफिशियल ऐप में वापस स्विच करने का तरीका लिखा है। उसमें चैट और चैट हिस्ट्री को बैकअप करने का तरीका भी दिया है, जिसकी जरुरत यूजर्स को स्विच करने से पहले पड़ सकती है।

  • Published Date: March 12, 2019 5:06 PM IST