comscore Xiaomi और Realme भारत में जल्द लॉन्च करेंगे ISRO के नेविगेशन टेक्नोलॉजी NavIC सपोर्टेबल स्मार्टफोन | BGR India Hindi
News

Xiaomi और Realme भारत में जल्द लॉन्च करेंगे ISRO के नेविगेशन टेक्नोलॉजी NavIC सपोर्टेबल स्मार्टफोन

Qualcomm ने हाल में ही नए चिपसेट Snapdragon 460, Snapdragon 662 और Snapdragon 720G SoC लॉन्च किए हैं। क्वालकॉम के नए चिपसेट लॉन्च किए जान के बाद Xiaomi और Realme बिना वक्त बिताए नए चिपसेट के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने की प्लानिंग कर रहे हैं। Qualcomm का लेटेस्ट Snapdragon 720G चिपसेट भारत की स्पेस एजेंसी इसरो (ISRO) की नेविगेशन सिस्टम NaviC GPS टेक्नोलॉजी को सपोर्ट करती है।

Xiaomi vs Realme

Qualcomm ने हाल में ही नए चिपसेट Snapdragon 460, Snapdragon 662 और Snapdragon 720G SoC लॉन्च किए हैं। क्वालकॉम के नए चिपसेट लॉन्च किए जान के बाद Xiaomi और Realme बिना वक्त बिताए नए चिपसेट के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने की प्लानिंग कर रहे हैं। Qualcomm का लेटेस्ट Snapdragon 720G चिपसेट भारत की स्पेस एजेंसी इसरो (ISRO) की नेविगेशन सिस्टम NavIC GPS टेक्नोलॉजी को सपोर्ट करती है। ऐसे में शाओमी और रियलमी Snapdragon 720G चिपसेट के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने की प्लानिंग कर रहे हैं। शाओमी और रियलमी दोनों कंपनियों की प्लानिंग है कि वे देसी नेविगेशन सिस्टम NavIC सपोर्टेड स्मार्टफोन जल्द से जल्द भारत में लॉन्च करें।


इसरो के चैयरमैन के सिवान ने बताया कि ISRO मोबाइल फोन्स के लिए चिपसेट बनाने वाली कंपनी Qualcomm के NavIC को स्मार्टफोन से कनेक्ट करने के प्रयासों से संतुष्ट है। हम दूसरे स्मार्टफोन मैन्यूफेक्चर्स से भी निकट भविष्य में नाविक जीपीएस के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने का आग्रह करते हैं। के सिवान का आगे कहना था कि इसरो के नेविगेशन सिस्टम NavIC सभी मल्टीपल मोबाइल प्लेटफॉर्म में जियोलोकेशन और डे टू डे यूज के दौरान इंडियन स्मार्टफोन यूजर्स की जीपीएस संबंधी जरूरतों को पूरा करने में सक्षम है।

Xiaomi का प्लान भारत में देसी GPS टेक्नोलॉजी के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने की है। हाल में ही शाओमी ने इसके लिए इसरो के साथ बातचीत भी की थी। हालांकि दोनों कंपनियों ने साफ नहीं किया है ये स्मार्टफोन Snapdragon 720G चिपसेट के साथ लॉन्च होंगे। Realme ने ट्विटर में एक पोस्ट के जरिए बताया कि वह भारत में सबसे पहले qualcomm के लेटेस्ट चिपसेट Snapdragon 720G के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करेगा। वहीं Xiaomi ने भी ट्वीट करते हुए यह दावा किया कि वह Qualcomm  के लेटस्ट चिपसेट के साथ भारत में सबसे पहले डिवाइसेस लॉन्च करेगा।

ऐसे काम करेगा NavIC  

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी (इसरो)  NavIC के उपग्रह दो  L5 और S माइक्रोवेव फ्रीक्वेंसी बैंड पर सिग्नल देते हैं। इसरो का कहना है कि यह सिस्टम स्टैंडर्ड पोजीशनिंग सर्विस और रिस्ट्रिक्टेड सर्विस की सुविधा प्रदान करता है।  नाविक की ‘स्टैंडर्ड पोजीशनिंग सर्विस’ सर्विस भारत में किसी भी क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति की स्थिति बता सकती है।

इसरो का यह भी कहना है कि नाविक की ‘रिस्ट्रिक्टेड सर्विस’ भारतीय सेना और दूसरे महत्वपूर्ण संस्थानों के लिए महत्वपूर्ण हो सकता है। इसके साथ ही सेटेलाइट रेंजिंग और निगरानी, जेनरेशन और नेवीगेशन मानदंड के प्रसारण के लिये कुछ जमीनी सुविधाएं बहाल करनी होती हैं। इसरो ने बताया कि देश भर में ऐसी सर्विस 18 जगहों पर स्थापित की जा रही हैं। इसके साथ ही देश के दूर-दराज के इलाकों पर नाविक की मदद से नजर रखी जा सकेगी।

इसरो का यह भी कहना था कि वह नाविक के जरिए आस-पड़ोस के देशों को भी GPS की सुविधा दे सकता है। इसके साथ ही पड़ोसी देशों को मौसम संबंधी पूर्वानुमान, मैंपिग जैसी सुविधाएं देकर सरकार को आय हो सकती है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: January 22, 2020 3:11 PM IST