comscore सैमसंग ने जिस गलती के लिए मांगी माफी, शाओमी पर भी लगा वैसा ही आरोप
News

सैमसंग ने जिस गलती के लिए मांगी माफी, शाओमी पर भी लगा वैसा ही आरोप

Mi 11 Series के स्मार्टफोन्स- Mi 11 Pro, Mi 11 Ultra और Mi 11X Pro में गीकबेंच स्कोर प्रभावित करने वाला फीचर पाया गया है। प्राइमेट लैब्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस सीरीज के Mi 11 स्मार्टफोन पर गेमिंग के दौरान सिंगल और मल्टीकोर के स्कोर में अंतर देखा जा सकता है।

XIaomi-Mi-11-Ultra

Samsung के वाइस चेयरमैन और CEO जोंग ही हैंग ने पिछले दिनों Galaxy S22 सीरीज में इस्तेमाल किए जाने वाले GOS ऐप की वजह से Geekbench स्कोर प्रभावित होने वाले विवाद पर माफी मांगी है। सैमसंग के बाद चीनी स्मार्टफोन कंपनी Xiaomi के Mi 11 सीरीज के बेंचमार्किंग स्कोर प्रभावित होने वाली खबर सामने आ रही है। Also Read - 6000mAh बैटरी, 48MP कैमरा, 6GB RAM वाले Samsung Galaxy F22 पर मिल रहा शानदार Discount, सिर्फ ₹399 प्रति महीने में खरीदने का मौका

एक टेस्ट में Mi 11 Series के स्मार्टफोन्स- Mi 11 Pro, Mi 11 Ultra और Mi 11X Pro में गीकबेंच स्कोर प्रभावित करने वाला फीचर पाया गया है। प्राइमेट लैब्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस सीरीज के Mi 11 स्मार्टफोन पर गेमिंग के दौरान सिंगल और मल्टीकोर के स्कोर में अंतर देखा जा सकता है। पिछले दिनों सर्टिफिकेशन साइट ने Samsung के प्रीमियम Galaxy S सीरीज के फोन के स्कोर में भी यही अंतर पाया गया था। Also Read - Samsung का बड़ा फैसला, मोबाइल फोन प्रोडक्शन में करेगा बड़ी कटौती, जानें वजह

जिसके बाद Samsung CEO ने एनुअल शेयरहोल्डर की मीटिंग में कहा कि सैमसंग ग्राहकों की चिंताओं की सराहना नहीं करता है और सैमसंग “इस तरह के मुद्दे को फिर से होने से रोकने के लिए ग्राहकों को अधिक बारीकी से सुनेगा।” सैमसंग के गैलेक्सी S सीरीज के फोन के अलावा प्रीमियम टैबलेट सीरीज Tab S8+ और Tab S8 Ultra को भी GoS की वजह से गीकबेंच ने बैन किया है। Also Read - Samsung ने शोकेस किया 200MP HP1 कैमरा सेंसर, मिलेगी DSLR वाली इमेज क्वालिटी

गीकबेंच के फाउंडर ने किया ट्वीट

Geekbench के को-फाउंडर जॉन पूल (John Poole) ने ट्वीट के माध्यम से शाओमी के Mi 11 स्मार्टफोन मॉडल की परफॉर्मेंस से हुए छेड़-छाड़ के बारे में जानकारी दी है। ट्वीट में जॉन ने बताया कि शाओमी के इस फन में परफॉर्मेंस प्रभावित करने वाला ऐप है, जो डिवाइस के सिंगल कोर परफॉर्मेंस को 30 प्रतिशत और मल्टी कोर स्कोर को 15 प्रतिशत तक कम कर देता है।

हालांकि, इस मुद्दे पर शाओमी की तरफ से फिलहाल कोई सफाई नहीं दी गई है। यह भी साफ नहीं है कि Mi 11 स्मार्टफोन के अलावा कंपनी के और भी डिवाइसेज में इस तरह के ऐप का इस्तेमाल किया गया है कि नहीं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: March 29, 2022 12:56 PM IST



new arrivals in india