comscore
News

शाओमी का दावा निकला खोखला, रेडमी Note 7 हुआ मजबूती के टेस्ट में फेल

यूट्यूबर का कहना है कि इसकी सिम ट्रे में दी गई वाटर सील्ड रबर काफी कमजोर है और वह सिम ट्रे बाहर निकालते हुए टूट सकती है या बाहर आ सकती है

xiaomi redmi note 7 bend test

Redmi Note 7 को कंपनी ने हाल ही में देश में लॉन्च किया है। स्मार्टफोन की खासियत इसकी बजट कीमत में बेहतरीन हार्डवेयर और फीचर्स का शामिल होना है। लॉन्च के बाद से ही कंपनी के CEO इस स्मार्टफोन की मजबूती को दिखाने के लिए इसके ऊपर मजबूती के टेस्ट करते नजर आए। CEO Lu Weibing ने इस स्मार्टफोन को सीढ़ियों से नीचे गिराने से लेकर इससे अखरोट फोड़ने तक की वीडियो को इंटरनेट में पोस्ट किया था। यहां तक की एक वीडियो में फोन को रोलर स्केट की तरह यूज करते हुए भी दिखाया गया था। स्मार्टफोन के बैक और फ्रंट में कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 की प्रोटेक्शन दी गई है।

अब यूट्यूबर JerryRigEverything ने इस स्मार्टफोन के ऊपर ड्यूरेबिलिटी टेस्ट किया है। यह यूट्यूबर स्मार्टफोन के ऊपर उनकी मजबूती को टेस्ट करने के लिए जाना जाता है। यूट्यूबर ने अपनी लेटेस्ट वीडियो में रेडमी नोट 7 के ऊपर एक नहीं बल्कि कई टेस्ट किए हैं। टेस्ट में स्मार्टफोन के कई वीक पॉइन्ट्स का भी पता चला है, जिनमें पावर बटर और सिम ट्रे के पास की जगह शामिल है।

स्मार्टफोन की प्लास्टिक फ्रेम भी कमजोर है और अगर आप इस स्मार्टफोन को अपनी बैक पॉकेट में रखते हैं और कहीं बैठ जाते हैं तो आपके फोन के बेंड होने के पूरे चांस हैं। इसके बाद इस फोन की डिस्प्ले भी यूज करने लायक नहीं रहेगी।

इस स्मार्टफोन की बैक में Corning Gorilla Glass 5 प्रोटेक्शन दी गई है। हालांकि यह प्रोटेक्शन भी इसकी बैक को शीशे के टुकड़ो की तरह टूटने में नहीं बचा पाई। कंपनी का कहना है कि इसकी सिम ट्रे और बटन वाटर रेपेलेंट है यानी इनके जरिए पानी फोन के अंदर नहीं जा सकता है।

हालांकि यूट्यूबर का कहना है कि इसकी सिम ट्रे में दी गई रबर काफी कमजोर है और वह सिम ट्रे बाहर निकालते हुए टूट सकती है या बाहर आ सकती है, इसलिए उसका कहना है कि यूजर को रेडनी नोट 7 की सिम निकालते हुए सावधानी बरतनी होगी।

  • Published Date: March 3, 2019 2:45 PM IST