comscore Lok Sabha Election 2019 : मतदान से जुड़े भ्रामक ट्वीट पर सख्त हुआ Twitter, कंपनी ने भारत में लॉन्च किया येे खास फीचर | BGR India
News

Lok Sabha Election 2019 : मतदान से जुड़े भ्रामक ट्वीट पर सख्त हुआ Twitter, कंपनी ने भारत में लॉन्च किया येे खास फीचर

Twitter ने मतदान से जुड़ी फेक न्यूज पर लगाम लगाने वाले इस फीचर को सबसे पहले भारत में लॉन्च किया है।

Twitter Election voting report feature

देश में चल रहे लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के मद्देनजर फेक न्यूज (Fake News) पर पाबंदी लगाने के लिए माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर (Twitter) ने कुछ खास इंतेजाम किए हैं। मतदान से जुड़ी भ्रामक जानकारियों पर लगाम लगाने के लिए Twitter ने भारत में आज 25 अप्रैल ने नया फीचर शुरू शुरू किया है। इस फीचर के लाइव हो जाने की सूचना Twitter ने ट्विट कर दी है। इसके साथ ही Twitter ने कंपनी के ब्लॉग का लिंक शेयर किया है, जिसमें इस फीचर के बारे में विस्तार से बताया गया है। बता दें कि Twitter फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए तैयार इस फीचर की टेस्टिंग इस साल के शुरुआत से कर रहा है। आइए आपको बताते हैं कि Twitter का ये फीचर कैसे काम करता है।

ट्विटर किस तरह के कंटेंट रोकेगा

ट्विटर का कहना है कि यूजर्स उसके प्लेटफॉर्म का प्रयोग किसी को मेन्यूप्लूटे और चुनावों को प्रभावित करने के लिए नहीं किया जा सकता हैं। ऐसे में ट्विटर, वोट कैसे करें और वोट रजिस्टर करने से जुड़ी भ्रामक जानकारी वाले कंटेट रोकेगा। इसके साथ ही मतदान से जुड़ी भ्रामक जानकारियों और मतदान की तारीख, समय की गलत जानकारी वाले जानकारी को भी ट्विटर अपने प्लेटफॉर्म पर बैन करेगा।

ट्विटर पर मौजूद भ्रामक जानकारियों को यूजर्स को रिपोर्ट करना होगा, जिसके बाद ट्विटर इन्हें रिव्यू कर अपने प्लेटफॉर्म से हटा देगा। ट्विटर की एप और वेबसाइट दोनों पर यूजर्स ऐसी जानकारियों को रिपोर्ट कर सकते हैं। आइए जानते हैं यूजर्स कैसे ऐसे पोस्ट को रिपोर्ट कर सकते हैं।

एप और डेस्कटॉप पर भ्रामक ट्वीट को यूं करें रिपोर्ट

1. भ्रामक तथ्य वाले ट्वीट को रिपोर्ट करने के लिए ड्रॉप डाउन मेन्यू में जाकर ‘Report Tweet’ में क्लिक करें।

2. इसके बाद ‘it’s misleading about voting’ (मतदान के बारे में भ्रामक जानकारी) पर क्लिक करें।

3. इसके बाद आपको ये बताना होगा कि जिस ट्वीट को आप रिपोर्ट कर रहे हैं वो कैसे मतदान के बारे में भ्रामक जानकारी दे रहा है।

4. इसके बाद सब्मिट बटन पर क्लिक कर दें।

 

 

अगर आप डेस्कटॉप पर ट्विटर चला रहे हैं तो आप एप की तरह ही मतदान से जुड़े भ्रामक ट्विट को रिपोर्ट कर सकते हैं। बता दें कि ट्विटर पर जुड़ा ये फीचर फिलहाल यूरोपियन यूनियन और भारत के लिए ही है। ट्विटर का कहना है कि वे अपने प्लेटफॉर्म को बेहतर और सुरक्षित बनाने के लिए अपील प्रोसेस को और इन्हेंस कर रहे हैं। ट्विटर पर रिपोर्ट का ये फीचर भारत में 25 अप्रैल और यूरोप में 29 अप्रैल से शुरू हो जाएगा।

  • Published Date: April 25, 2019 11:05 AM IST
  • Updated Date: April 25, 2019 2:07 PM IST