comscore मोटोरोला G6 रिव्यू : क्या ये कर पाएगा अपने प्राइस रेंज को जस्टिफाई | BGR India
News

मोटोरोला G6 रिव्यू : क्या ये कर पाएगा अपने प्राइस रेंज को जस्टिफाई

मोटोरोला ने इस स्मार्टफोन को किया है 13,999 रुपये मेें लॉन्च, इसके अलावा मोटो G6 प्लस भी किया गया है लॉन्च

moto g6 review main

Photo Credit: Rehan Hooda



मोटो G को लॉन्च हुए करीब पांच साल हो गए हैं। मोटो G वैल्यू फॉर मनी स्मार्टफोन होने के कारण काफी पॉप्यूलर हुआ था। इस स्मार्टफोन से यह बात साबित हो गई थी कि 15,000 रुपये से कम कीमत में लोगों को अच्छे फीचर्स वाला डिवाइस मिल सकते हैं तो वो ज्यादा पैसे खर्च क्यों करें। मेरी राय से जिन लोगों ने मोटो G को खरीदा होगा उन्होंने मुझे इसके लिए अभी तक धन्यवाद देना बंद नहीं किया है। Also Read - Moto G6 के प्राइस कंपनी ने 2,000 रुपये घटाए

Also Read - इन स्मार्टफोन्स को जल्द मिलेगा एंड्रॉइड Pie का अपडेट

हाल में बीते कुछ वर्षों के दौरान मोटोरोला ने मोटो G रेंज की क्वालिटी के स्तर को बनाए रखा है और कीमत को जस्टिफाई करने के लिए समय के साथ सुधार करते हुए नए डिवाइस को पेश भी किया है। हालांकि इसके कंप्टीशन में काफी बदलाव आए हैं। हाल ही में शाओमी, असुस और ऑनर ने इस सेगमेंट में अपनी पकड़ को मजबूत करते हुए नए स्मार्टफोन्स को पेश किया और मोटो को भारत के टॉप पांच स्मार्टफोन ब्रांडों में से बाहर कर दिया है। यही कारण है कि मोटो को इस 13,999 रुपये के स्मार्टफोन से काफी उमीदें है, लेकिन इसको मार्केट में पहले से पकड़ बनाए स्मार्टफोन्स का सामना करना पडे़गा। Also Read - Moto G6 Plus vs Moto G6 vs Moto G6 Play: तीनों स्मार्टफोन में ये है अंतर

मोटो G6 डिजाइन और डिस्प्ले

मोटो G6 के डिजाइन में मोटो G5S के मुकाबले जो सबसे बड़ा अतंर देखने को मिलाता है वो है इसमें दिया ग्लास बैक। इस वजह से यह फोन मोटो X4 की तरह दिखता है। फ्रेम हमेशा की तरह मेटल का बना हुआ है और लेआउट मोटोरोला के टिपिकल डिजाइन लाइन-अप को दिखाता है। पॉवर और वॉल्यूम बटन राइट साइड में दिए गए हैं और नीचे USB टाइप-C और 3.5mm जैक दिया गया है। इसके अलावा यह डुअल सिम और माइक्रो-एसडी ट्रे के साथ है के साथ आता है।

ग्लास बैक में बीचों बीच मोटो का लोगो है और साथ में एक ड्यूल कैमरा सेटअप दिया गया है। फोन में सामने की ओर मोटोरोला ने एक 18:9 एस्पेक्ट रेश्यो की एक बड़ी स्क्रीन दी गई है, जिसमें आपको 5.7-इंच की एक फुल HD+ डिस्प्ले मिलती है। स्क्रीन के नीचे मोटोरोला का लोगो दिया गया है और साथ ही में एक छोटा फिंगरप्रिंट सेंसर मौजूद है जो दिखने में थोड़ा अजीब लगता है पर अपना काम बखूबी निभाता है।

फोन मुश्किल से एक टिपिकल 18:9 स्क्रीन डिवाइस की तरह दिखता है। हालांकि, स्क्रीन अच्छी है, क्योंकि मोटोरोला ने इसे एक फुल-एचडी रिजाॅल्यूशन के साथ उतारा है। मैक्सिमम ब्राइटनेस की बात करें तो यह उतना ही अच्छा है जितना आप 15,000 रुपये से कम में आने वाले स्मार्टफोन से उम्मीद कर सकते हैं।

मोटो G6 स्पेसिफिकेशन, सॉफ्टवेयर और परफॉर्मेन्स

मोटो G6 में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 450 SoC दिया गया है , वहीं G6 प्लस को कंपनी ने भारत में स्नैपड्रैगन 630 SoC के साथ उतारा है। प्रोसेसर की बात करें तो ये काफी अच्छे है पर प्रोसेसर के हिसाब से स्मार्टफोन्स की कीमत देखी जाए तो ये थोड़े महंगे लगते हैं। मोटो G6 की बात करें तो 13,999 की कीमत में स्नैपड्रैगन 450 SoC का मिलना इस डिवाइस को कही न कही अधूरा बनाता है। जबकि शाओमी और असुस इसी कीमत में स्नैपड्रैगन 636 SoC दे रहें है जो स्नैपड्रैगन 450 SoC से काफी बेहतर है।

यह डिवाइस दो वेरिएंट में आता है जिनमे से एक है 3GB रैम/32GB स्टोरेज और दूसरा 4GB रैम/64GB स्टोरेज से लैस है। इसके अलावा 3,000mAh की बैटरी है जो कि मोटोरोला के टर्बो चार्ज के साथ आता है। टर्बो चार्ज की मदद से आप फोन की बैटरी को 0 से 100 प्रतिशत तक लगभग 90 मिनट चार्ज कर लेंगे। स्मार्टफोन USB टाइप -C पोर्ट के साथ आता है।

सॉफ्टवेयर की बात करें तो स्मार्टफोन एंड्राइड 8.0 ओरियो के साथ आता है जो आपको लगभग स्टॉक एंड्राइड जैसा फील देगा। सॉफ्टवेयर साइड में मोटोरोला ने ज्यादा बदलाव नहीं किए हैं और यहां आपको ज्यादा कुछ नया नहीं मिलेगा। इसके अलावा इसमें आपको ट्रेंडिंग फेस अनलॉक भी मिलता है। यह मार्केट में मौजूद हाई-एन्ड स्मार्टफोन्स के मुकाबले ज्यादा फास्ट नहीं है पर अगर आप इसमें अपना फेस डाटा अच्छे से डालते है तो यह अपना काम बखूबी निभाता है।

मोटो G6 कैमरा

ड्यूल कैमरा सेटअप स्मार्टफोन कंपनियों के लिए देना आजकल कॉमन और बेसिक नीड बनता जा रहा है। मोटोराल ने भी बिल्कुल ऐसा ही किया है और G6 में भी ड्यूल कैमरा दिया है। इस सेटअप में आपको एक 12-मेगापिक्सल और एक 5-मेगापिक्सल का लेंस मिलता है और फ्लैश के साथ एक 16-मेगापिक्सल का फ्रंट फेसिंग कैमरा मिलता है। आप इसमे दिए ड्यूल कैमरा से 60fps की दर से 1080p की वीडियो रिकॉर्डिंग कर सकते हैं और इसमें आपको डेप्थ इफेक्ट और पोट्रेट मोड जैसे फीचर्स भी मिलते हैं।

इसके अलावा बाकी फीचर काफी बेसिक है जैसे फेस फिल्टर, स्लो-मोशन और टाइम-लैप्स वीडियो। परफोर्मेन्स के मामले मे मोटो G6 का कैमरा किसी भी 12,000 रुपये के अास पास आने वाली डिवाइस के जैसा ही परफोर्म करता है। नैचुरल और अच्छी लाइट मे फोटो काफी शार्प डिटेल्स और बेहतर रंगों के साथ आती है। वहीं, low-लाइट परफोर्मेन्स की बात करें तो कम लाइट में इसकी परफोर्मेन्स थोड़ी गिर जाती है।

लेकिन, ये सब आपके ऊपर डिपेंड करता है कि इस कीमत में आप इस डिवाइस से क्या उम्मीदें रखते हैं। इसमें दिये गए क्लोज-अप और पोट्रेट मोड की क्वालिटी काफी अच्छी है।

वर्डिक्ट

फेस वैल्यू को देखा जाए तो मोटो G6 एक अच्छा स्मार्टफोन है। क्वाॅलकॉम स्नैपडैगन 450 SoC, एंट्री-लेवल यूजर की जरूरत के हिसाब से रैम और स्टोरेज का अच्छा कॉम्बीनेशन, 18:9 फुल-एचडी स्क्रीन, फिंगरप्रिंट सेंसर, फेस अनलॉक और प्रीमीयम लुक के कारण ये स्मार्टफोन काफी हद तक हाई-एंड स्मार्टफोन जैसा फील देता है। हालांकि, इस प्राइस रेंज में मोटो G6 बहुत अच्छा अॉपशन नहीं हैं।

मोटो G6 को मार्केट में पहले से मौजूद शाओमी रेडमी नोट 5 प्रो और असुस जैनफोन मैक्स प्रो M1 की बेहतर परफोर्मेन्स और बेहतर कैमरा की वजह से तगड़े कॉम्पिटिशन का सामना करना पड़ेगा। इन सब बातों को देखा जाए तो अगर आप मोटोरोला फैन हैं और अपने पुराने फोन को इस नए फोन के साथ स्विच करना चाहते हैं तो आप इस डिवाइस को बेशक खरीद सकते हैं। लेकिन अगर एेसा नहीं है तो मोटो G6 आपके लिए एक अच्छा अॉप्शन नहीं हैं।

Translated by Nitesh Papnoi

  • Published Date: June 6, 2018 8:53 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:09 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.