comscore
News

Xiaomi Mi Band 3: फिटनेस ट्रैकर जो हर मामले में है दमदार

यह Mi.com और अमेजन इंडिया पर बिक्री के लिए उपलब्ध है।

Xiaomi Mi Band 3 (1)

शाओमी ने अपने लेटेस्ट फिटनेस बैंड को Mi Band 3 के नाम से भारत में पेश किया था। इस फिटनेस को कंपनी ने लगभग दो महीने पहले सितंबर में लॉन्च किया था। Mi Band 3 से लगभग एक साल पहले कंपनी ने Mi Band HRX एडिशन को पेश किया था। HRX एडिशन कंपनी के Mi Band 2 का ही स्पेशल एडिशन था जो साल 2016 में आया था। अगर बात करें नए फिटनेस बैंड की तो यह नए डिजाइन और नए फीचर्स के साथ आता है जो कि पुराने बैंड से अलग है।

Mi Band 3 की कीमत 1,999 रुपए है जो कि Mi.com और अमेजन इंडिया पर बिक्री के लिए उपलब्ध है। कंपनी ने सबसे पहले इस बैंड को चीन में लॉन्च किया था। वहीं, घरेलू मार्केट में लॉन्च होने के बाद इसे भारत में पेश किया गया। आपको बता दूं कि मैं काफी समय से Mi Band यूजर हूं।

सबसे पहले मैंने Mi Band 1S को यूज किया और फिर Mi Band 2 को इस्तेमाल किया। वहीं, लगभग एक महीने तक मैंने Mi Band 3 को इस्तेमाल किया। आइए जानते हैं मेरे रिव्यू के दौरान कैसा रहा Mi Band 3 का परफॉर्मेंस।

नया और इंप्रूव डिजाइन

शाओमी ने अपने Mi Band 3 के डिजाइन को फिर से बदला दिया है ताकि यह और रिफाइन्ड और प्रीमियम लुक दे। बैंड में एक बड़ा कर्व ओएलईडी डिस्प्ले दिया गया है जो कि सिलिकॉन बैंड के साथ आता है। डिस्प्ले के बारे में बात करें तो शाओमी ने इस बार डिस्प्ले में टच स्क्रीन दी है ताकि यूजर्स सिर्फ एक टच से स्वाइप-अप कर सकेंगे। इसके अलावा यूजर्स स्वाइप राइट और लेफ्ट कर स्क्रीन में दिए गए ऑप्शन्स में जा सकते हैं।

बैंड में दिया गया सिलिकॉन स्ट्रैप इसे थर्मोप्लास्टिक elastomer का लुक देता है जो कि हम Mi Band 2 में देख चुके हैं। इसे काफी समय पहनने के बाद भी आपको परेशानी नहीं होगी। कंपनी ने दावा किया है कि उसने सिलिकॉन बैंड को पिछले वर्जन के मुकाबले ज्यादा बेहतर बनाने की कोशिश की है।

नए clasping मकैनिज्म ने लगभग उस समस्या को समाप्त कर दिया है जहां Mi बैंड से कैप्सूल कभी-कभी सिलिकॉन बैंड से बाहर निकल जाता था। इसके अलावा इस फिटनेस बैंड पर अन्य महत्वपूर्ण सुधारों की बात करें तो डिस्प्ले के नीचे की ओर एक टच बटन दिया गया है। यह बटन मैन्यू से बहार निकलने में मदद करता है। इस पर टैप करते ही सभी सेटिंग्स से बाहर निकला जा सकता है।

बड़ी डिस्प्ले: ज्यादा जानकारी
शाओमी ने इस बैंड में 0.78-इंच OLED डिस्प्ले दिया है जो कि टच क्षमता के साथ आता है। इस डिस्प्ले में 128×80 का रिजॉल्यूशन दिया गया है। इसमें दिया गया 3-axis एक्सेलेरोमीटर ऑटोमेटिकली डिस्प्ले को चालू करने और डिस्प्ले पर जानकारी की जांच करने की अनुमति देता है। Mi Band 2 से अलग इस डिवाइस में दिया गया यह फीचर काफी अच्छा है।

बढ़ी स्क्रीन होने से बैंड में मौसम पूर्वानुमान, कुछ सटीक ग्राफिक्स के साथ बैटरी डिटेक्टर स्क्रीन, एक डेडिकेट नोटिफिकेशन स्क्रीन, स्टॉपवॉच, स्मार्टफोन प्रोफाइल, बैंड से सीधा अपने स्मार्टफोन को सर्च करने की क्षमता शामलि है। कंपनी ने इन सुविधाओं में से ज्यादातर फीचर्स को बड़ी स्क्रीन होने के कारण जोड़ा है।

अगर बात करें डिस्प्ले की परर्फोमेंस की तो यह ज्यादातर स्थितियों में अच्छी तरह से काम करता है। अगर आप उन यूजर्स में से एक हैं जिन्हें ज्यादा धूप में जाना होता है तो आपके लिए Mi Band 3 डिस्प्ले थोड़ी परेशानी खड़ी कर सकता है। धूप में जाने के बाद बैंड के डिस्प्ले में आने वाली नोटिफिकेशंस ठीक प्रकार से पढ़ी नहीं जाती है। इसके अलावा शाओमी ने इसमें एक ‘नाइट मोड’ दिया है जो कि बैटरी की बचत करता है।

Mi Fit ऐप

सॉफ्टवेयर ऐप से आप Mi Band वियरेबल डिवाइस में दी गई फंक्शनेलिटी को कंट्रोल कर सकते हैं। Mi फिट को हाल ही के वर्षों में रि-डिजाइन किया गया है जो काफी बेहतर लगता है। इसका यूआई काफी यूजर-फ्रेंडली है जो कि पूरे एक्सपीरियंस को बेहतर करती है।

आपको ऐप में तीन टैब ‘Status’, ‘Workout’, और ‘Profile’ का ऑप्शन मिलेगा। इसमें आप स्लीप, हार्ट रेट और पर्सनल वेट गोल्स को सेट कर सकते हैं। नेविगेट पर टैप कर हिस्ट्री को क्लीन कर सकते हैं। वहीं, ‘Workout’ टैब यूजर्स को वर्कआउट का रिकॉर्ड देखने में सक्षम है।

इसके अलावा प्रोफाइल सेक्शन यूजर को सेटिंग कंट्रोल के साथ बैटरी लेवल, नोटिफिकेशन्स, रिमाइंडर्स, अलार्म, अलर्ट्स, बैंड लोकेशन, हार्ट रेट डिटेक्शन, नाइट मोड और स्क्रीन अनलॉक जैसे ऑप्शन हैं। इसमे यूजर अपनी एक्टिविटी और Weight गोल्स को सेट कर सकता है।

परफॉर्मेंस

वियरेबल डिवाइस की बात करें तो यह स्टेप्स को ट्रैक, स्लीप ट्रैकिंग और हार्ट ट्रैकिंग में बेहतर काम करता है। वहीं एक्सरसाइज ट्रैक करने में यह कहीं चूक जाता है। कंपनी को इस ओर काम करनी की जरूरत है।

ज्यादातर एंट्री-लेवल सेगमेंट में आने वाले फिटनेस बैंड के साथ एक्यूरेसी की परेशानी हमेशा देखने को मिलती है। लेकिन, यह बैंड स्टेप्स, कैलोरी, स्लीप और हार्ट रेट को ट्रेक करने में काफी अच्छा है। इसके अलावा दूसरे फीचर्स की बात करें तो इसमें अलार्म, अलर्ट,नोटिफिकेशन और स्टॉपवॉच जैसे ऑप्शन हैं। साथ ही अगर आपके हाथ गंदे और गीले हैं तो आप बैंड 3 के टच को इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

बैटरी

शाओमी ने Mi Band 3 में 110mAh की बैटरी दी है। वहीं, इससे पहले Mi Band 2 में 70mAh की क्षमता थी। बैटरी को देखकर लगता है कि यह बैंड 2 से ज्यादा बैकअप देगा। लेकिन, ऐसा नहीं है। बैटरी बैकअप की बात करें तो Band 3 का बैकअप बिल्कुल Band 2 की तरह ही है। बैंड को एक बार चार्ज करने के बाद यह तीन हफ्ते से ज्यादा चलता है।

खरीदें या नहीं?

अगर आप 2,000 रुपए के अंदर एक बैंड खरीदने की सोच रहे हैं तो यह एक बेस्ट फिटनेस बैंड है। यह बैंड मार्केट में मौजूद दूसरे वियरेबल बैंड को कड़ी चुनौती पेश करने में पूरी तरह से सक्षम है। डिजाइन, फीचर्स और सॉफ्टवेयर के मामले में यह अच्छा है।

अगर आप अभी भी Mi Band 2 इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको Mi Band 3 ज्यादा अट्रैक्ट नहीं करेगा। लेकिन, अगर आप पहली बार फिटनेस बैंड खरीदने की सोच रहे हैं तो इसे खरीदा जा सकता है।

  • Published Date: November 29, 2018 4:12 PM IST