comscore KYC अपडेट के नाम पर हो रहा है ऑनलाइन फ्रॉड, Airtel ने 35 करोड़ ग्राहकों को किया आगाह
News

KYC अपडेट के नाम पर हो रहा है ऑनलाइन फ्रॉड, Airtel ने 35 करोड़ ग्राहकों को किया आगाह

इन दिनों कई ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाएं सामने आ रही हैं। आए दिन किसी ऑनलाइन फ्रॉड या साइबर क्राइम के बारे में खबर सामने आ जाती हैं। Airtel CEO गोपाल विट्टल ने बढ़ रहे ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाओं को देखते हुए अपने कस्टमर को ई-मेल किया है। Airtel CEO का यह ई-मेल COVID-19 (कोरोना काल) में तेजी से बढ़े ऑनलाइन ट्रांजैक्शन को ध्यान में रखते हुए अपने ग्राहकों को आगाह करने के लिए भेजा गया है।

Airtel

इन दिनों कई ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाएं सामने आ रही हैं। आए दिन किसी ऑनलाइन फ्रॉड या साइबर क्राइम के बारे में खबर सामने आ जाती हैं। Airtel CEO गोपाल विट्टल ने बढ़ रहे ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाओं को देखते हुए अपने कस्टमर को ई-मेल किया है। Airtel CEO का यह ई-मेल COVID-19 (कोरोना काल) में तेजी से बढ़े ऑनलाइन ट्रांजैक्शन को ध्यान में रखते हुए अपने ग्राहकों को आगाह करने के लिए भेजा गया है। Also Read - Airtel के जबरदस्त प्रीपेड प्लान्स, कई सुविधाओं के साथ फ्री में मिल रहा 4GB डेटा

गोपाल विट्टल ने अपने आधिकारिक मेल में कहा है कि ग्राहकों को किसी भी तरह के फ्रॉड कॉल को लेकर सतर्क रहना चाहिए। इन दिनों साइबर क्रिमनल्स यूजर्स को KYC अपडेट कराने के बहाने ऑनलाइन फ्रॉड को अंजाम दे रहे हैं। साइबर अपराधी खुद को Airtel  एक्सीक्यूटिव बताकर यूजर को KYC अपडेट कराने के लिए कहते हैं। इसके बाद यूजर के उनकी निजी जानकारियां लेकर ऑनलाइन फ्रॉड की घटना को अंजाम दे रहे हैं। Also Read - Airtel और Vi के इन 56 दिनों वाले रिचार्ज के साथ पाएं Amazon Prime, Disney+ Hotstar और 200GB तक डेटा

साइबर एक्सपर्ट ने क्या कहा?

सीनियर IoT विश्लेषक सत्यजीत सिन्हा ने BGR.in से कहा कि 2020 के बाद से KYC के बहाने फ्रॉड करने वाले केस की संख्या काफी बढ़ी है। उन्होंने बताया कि इस तरह की घटनाएं यूजर्स द्वारा मोबाइल फोन पर इन दिनों ज्यादा समय बीतने की वजह से बढ़ रही है। इस महामारी की वजह से ज्यादातर काम वर्चुअली हो रहे हैं, जिसका फायदा यह साइबर अपराधी उठा रहे हैं। ये यूजर्स से उनकी निजी जानकारियां लेकर उनके अकाउंट से पैसे उड़ा रहे हैं। Also Read - Airtel का धमाल ऑफर, इन प्रीपेड प्लान्स के साथ रोज फ्री मिलेगा 500MB डेटा

Airtel का ई-मेल

Airtel CEO ने अपने ई-मेल में लिखा, “यूजर्स को साइबर अपराधी की तरफ से कॉल या मैसेज मिलेगा, जिसमें यूजर को बैंक या किसी भी तरह के वित्तीय संस्था के अकाउंट की जानकारी और OTP की मांग की जाएगी। साइबर अपराधी यूजर्स को कॉल करके बैंक अकाउंट को अनब्लॉक करने या कार्ड को रिन्यू करने के बहाने यूजर को टारगेट कर रहे हैं। जबकि ये जानकारियां यूजर के अकाउंट से पैसे चुराने के लिए ली जाती हैं। मैं आपसे निवेदन करता हूं कि कॉल या मैसेज के जरिए किसी को किसी भी तरह की निजी जानकारियां या बैंक या फाइनैंस की जानकारी जैसे कि कस्टमर आईडी, MPIN, OTP पर शेयर न करें।”

fraud

इसके अलावा Airtel CEO ने यूजर्स को आगाह करते हुए कहा कि किसी भी तरह के फर्जी UPI ऐप और ई-कॉमर्स वेबसाइट पर अपनी निजी जानकारी दर्ज न करें। ये फर्जी ऐप्स और वेबसाइट देखने में आपको सही लगेंगे। अगर, कोई यूजर इस तरह के ऐप को डाउनलोड करते हैं तो उनसे बैंक की डिटेल्स और MPIN आदि मांगा जाता है। यूजर ऐसे किसी भी ऐप को ऑफिशियल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ही डाउनलोड करें।

किस तरह बचें?

इस तरह के फर्जी मैसेज और कॉल्स का पता लगाना बेहद आसान होता है। यूजर्स को किसी भी तरह के कॉल या मैसेज के जरिए निजी जानकारी मांगी जाने पर सतर्क रहना चाहिए।

इसके अलावा यूजर को OTP और निजी जानकारियां कॉल या मैसेज के जरिए किसी से शेयर नहीं करनी चाहिए। साइबर अपराधी यूजर की निजी जानकारियों के जरिए डुप्लीकेट सिम कार्ड इश्यू कराने के लिए OTP की मांग करते हैं। इसके बाद साइबर अपराधी यूजर के मोबाइल फोन को क्लोन करके उनकी सभी जानकारियां चुरा सकते हैं।

eSIM के आने के बाद से साइबर अपराधियों के लिए ऑनलाइन फ्रॉड की घटना को अंजाम देना और भी आसान हो गया है। इसलिए यूजर्स को ऐसे किसी भी कॉल या मैसेज को इ्गनोर कर देना चाहिए, जिसमें उनसे उनको KYC के नाम पर या अन्य किसी बहाने निजी जानकारियां, OTP, MPIN आदि की डिमांड की जा रही हो।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: October 28, 2021 9:20 PM IST
  • Updated Date: October 29, 2021 5:58 AM IST



new arrivals in india

Best Sellers