comscore
News

क्या आपने कराया है अपने Paytm का KYC, सुरक्षा की दृष्टि से है काफी महत्त्वपूर्ण

अब पेटीएम के लिए भी KYC आवश्यक हो गया है जिसे आप आसानी से अपडेट कर सकते हैं।

paytm-stock-image

देश में पुराने नोटों की नोटबंदी के बाद कैशलेस लेन देन के लिए मोबाइल वॉलेट सर्विस उभर कर सामने आई है। वहीं पेटीएम का उपयोग काफी तेजी से बढ़ रहा है। मोबाइल वॉलेट पेटीएम की मदद से यूजर्स किसी से पैसे प्राप्त करने के साथ ही किसी को भी पैसे भेज सकते हैं। खास बात है कि इसमें आप बिना किसी लंबी प्रक्रिया के आसानी से पैसे का लेन देने कर सकते हैं। इसके अलावा इस एप की मदद से मोबाइल रिचार्ज, बिल भुगतान, मेट्रो कार्ड रिचार्ज, ​मूवी टिकट और शॉपिंग आदि का भी लाभ उठाया जा सकता है।

वहीं कुछ समय पहले पेटीएम में KYC को अनिवार्य कर दिया गया। अब पेटीएम भी बैंक की तर्ज पर अपने ग्राहकों से केवाईसी मांग रहा है। इसमें आपको अपने आधार कार्ड की डिटेल देनी होगी। इस पूरी प्रक्रिया में आपको पेटीएम से अपना आधार नंबर जोड़ना है, यह प्रक्रिया बेहद सरल है। आइए जानते हैं कैसे पेटीएम में KYC को अपडेट करें।

इसे भी देखें: सैमसंग Galaxy J7 Pro और Galaxy J7 Max स्मार्टफोन हुए लॉन्च, कीमत: 17, 900 रुपए से शुरू

पेटीएम में कैसे करें KYC अपडेट

1. सबसे पहले अपने पेटीएम अकाउंट को ओपेन करें। उसमें उपर कुछ आॅप्शन दिए गए हैं। जिनमें पे, एड मनी, पासबुक, पेटीएम KYC, एक्सेप्ट पेमेंट आदि शामिल हैं।

2. इन आॅप्शन में से आपको पेटीएम KYC पर क्लिक करना है। उस पर क्लिक करते ही एक कम्प्लिट योर केवाइसी का पेज ओपेन होगा।

3. यहां आपसे 12 अंकों का आधार नंबर मांगा जाएगा। आधार नंबर व नाम डालने के बाद टर्म एंड कंडीशन पर एग्री बटन पर क्लिक कर दें। उसके बाद प्रोसिड पर क्लिक करें। इसके बाद आप केवाईसी में रजिस्टर्ड हो जाएंगे।

इसे भी देखें: कैसे पेटीएम पेमेंट बैंक अकाउंट के लिए करें अप्लाई

4. यदि आपके आधार नंबर नहीं है तो आप इसके लिए आप अन्य डॉक्टयूमेंट का भी उपयोग कर सकते हैं। अदर डॉक्यूमेंट के आॅप्शन पर क्लिक करते ही उन डॉक्यूमेंट्स की लिस्ट ओपेन होगी जो केवाईसी के लिए आवश्यक हैं।

5. इनमें पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र, पैनकार्ड और आधार कार्ड शामिल हैं। बस इनमें से जो भी डॉक्यूमेंट आपके पास है उस पर क्लिक कर वहां मांगी गई सभी डिटेल भरें और ओके कर दें। जिसके बाद आप केवाईसी में रजिस्टर्ड हो जाएंगे।

इसे भी देखें: Nokia 6 को टक्कर देंगे शाओमी Redmi Note 4, मोटो G5 Plus और लेनोवो Z2 Plus, जानें कीमत, स्पेसिफिकेशन और फीचर्स में अंतर

क्या है केवाईसी
बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र में प्रयुक्त होने वाला एक लोकप्रिय शब्द है। अपने ग्राहक की पहचान से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए केवार्इसी विधि का प्रयोग किया जाता है। इस विधि से वित्तीय संस्थाएं सूचनाओं का संग्रह करती हैं, जिसके आधार पर ग्राहक की पहचान और उसके पते की सही जानकारी प्राप्त की जाती है।

क्यों जरूरी है केवाईसी
बैंको और वित्तीय संस्थाओं के लिए केवार्इसी का बहुत महत्व हैं, क्योंकि इसके द्वारा व्यक्ति के आवेदन और उसकी पहचान सुनिश्चित होती है, और इस बात से आश्वस्त हो जाते हैं कि जो भी दस्तावेज दिये गये हैं, वे सही हैं।

इसे भी देखें: फ्लिपकार्ट पर सैमसंग ​कार्निवाल का दूसरा दिन: ये प्रोडक्ट्स हैं खास आॅफर्स में उपलब्ध

  • Published Date: June 14, 2017 8:00 PM IST
  • Updated Date: June 14, 2017 9:21 PM IST