comscore आपका स्मार्टफोन कर रहा है परेशान तो अपनाएं ये नुस्खे | BGR India
News

आपका स्मार्टफोन कर रहा है परेशान तो अपनाएं ये नुस्खे

पुराना होते ही आपका स्मार्टफोन परेशान करने लगता है। फोन हैंग होने लगता है और

CBSE-12th-board-result

पुराना होते ही आपका स्मार्टफोन परेशान करने लगता है। फोन हैंग होने लगता है और एप्लिकेशान इंस्टाॅल नहीं होते। इसका कारण है कि आपके फोन की इंटरनल मैमोरी भर गई है। यदि आप भी इस तरह की समस्या से परेशान हैं तो इन नुस्खों को अपना कर थोड़ी राहत पा सकते हैं। Also Read - How to download Google Photos Data: अनलिमिटेड फ्री स्टोरेज खत्म होने से पहले ऐसे करें डाउनलोड, अन्य Cloud सर्विस में करें सेव

कैश डाटा खत्म करें
स्मार्टफोन उपयोग के दौरान कई अनचाहा डाटा आपके फोन की कैश मैमोरी में इंस्टाॅल हो जाता है। कैश मैमोरी को सीपीयू मैमोरी भी कहते हैं। फोन कैश डाटा को ब्राउजर, एप्लिकेशन और गेम सहित कई जगहों से उठाता है। ऐसे में आप फोन के कैश डाटा को कम कर ढेर सारी मैमोरी स्पेस बना सकते हैं। सेटिंग में जाकर आप स्टोरेज से कैश डाटा को खत्म कर सकते हैं। Also Read - Google Acquires Elastifile : गूगल ने खरीदी इजरायली क्लाउड स्टोरेज कंपनी इलास्टीफाइल

Cached-data Also Read - जानें क्या है क्लाउड स्टोरेज और कैसे करें इसका उपयोग

मैमोरी कार्ड में एप्लिकेशन मूव और इंस्टाॅल
यदि आपके फोन में ढेर सारे एप्लिकेशन हैं तो आप कुछ एप्लिकेशन को मैमोरी कार्ड में मूव कर सकते हैं। फोन की सेटिंग में एप्लिकेशन मैनेजर में ही आपको यह विकल्प दिखाई देगा। वहीं यदि आपके फोन की इंटरनल मैमोरी कम है तो गेम व एप्लिकेशन को सीधे मैमोरी कार्ड में ही इंस्टाॅल कर सकते हैं।

मैमोरी कार्ड स्टोरेज
यदि पहले से फोन के इंटरनल मैमोरी में फोटो और वीडियो फाइलें हैं तो आप उन्हें कार्ड में मूव कर दें। अन्यथा शुरू से ही फोटो और वीडियो स्टोर करने के लिए मैमोरी कार्ड का सहारा ले सकते हैं। कैमरा सेटिंग में फोटो और वीडियो को मैमोरी कार्ड में स्टोर करने का विकल्प होता है। इसी तरह आॅडियो फाइल भी मैमोरी कार्ड में रखना ज्यादा बेहतर होगा।

Memory-card-storage

क्लाउड स्टोरेज
स्मार्टफोन में क्लाउड स्टोरेज का भी विकल्प होता है। वे फाइल और फोल्डर जिनका उपयोग आप कम करते हैं उन्हें क्लाउड पर रखकर फ़ोन मैमोरी को बचा सकते हैं। गूगल ड्राइव, वन ड्राइव और ड्राॅप बाॅक्स इत्यादि क्लाउड स्टोरेज एप्ल्किेशन हैं।

फैक्ट्री डाटा रिसेट
फोन की इंटरनल मैमोरी बढ़ाने का यह आखीरी रास्ता है। परंतु याद रहे कि इसके बाद आपके फोन का हरेक डाटा नष्ट हो जाएगा। इसलिए फैक्ट्री रिसेट करने से पहले फोन की जरूरी डाटा का बैकअप ले लें। फोन की सेटिंग में ही बैकअप एंड रिसेट का विकल्प होता है। आप वहां से जाकर फैक्टी डाटा रिसेट कर सकते हैं। इससे लगभग सभी अनचाहा डाटा नस्ट हो जाएगा और आप अपने फोन का वही परफाॅर्मेंस से फिर पा सकेंगे।

Factory-data-reset

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 8, 2015 6:29 PM IST
  • Updated Date: June 8, 2015 6:32 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers